10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...

 
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...लखनऊ। प्यार किसी से भी हो जाता है ये बात तो पूरा देश हाल ही में देख चुका है जब अनूप जलोटा और जसलीन की लव स्टोरी सामने आयी। एक और अनोखी कहानी आपको पता नहीं होगी। भाजपा की एक मेयर का दिल एक लड़के पर आ गया था।
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...
वो लड़का 10वीं पास था। आखिर कौन है वो और फिर दोनों का क्या हुआ, आइए एक बड़ा सच आपको बताते हैं। हम जिस मेयर की बात कर रहे हैं वो असल में उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर की मेयर अभिलाषा मिश्रा हैं। वो इस समय भारतीय जनता पार्टी में हैं और साल 2017 में उन्होंने इलाहाबाद के मेयर चुनाव में भाग्य आजमाया और बड़े शहर की मेयर चुनी गयीं।
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...
बात उस समय की है जब अभिलाषा ग्रेजुएशन कर रही थीं। उनके घर से 500 मीटर दूरी पर एक लड़के का घर था। अभिलाषा का दिल उस लड़के पर आ गया था। वो खुद एमए पास हो गयी थीं लेकिन उस लड़के ने 10वीं के बाद ही पढ़ाई छोड़ दी थी और बिजनेस में हाथ-पैर मारने लगा था।
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...

ख़बरों के अनुसार अभिलाषा ब्राह्मण परिवार की थी जबकि वो लड़की गुप्ता था। इस वजह से अभिलाषा के परिवार वालों ने इस अफेयर का जमकर विरोध करना शुरू कर दिया। हालांकि उस लड़के के प्यार में डूब चुकी अभिलाषा ने परिवार के खिलाफ जाकर उससे दो साल बाद घर से भागकर शादी कर ली थी। अब हम आपको बताते हैं कि वो लड़का कौन था। वो कोई और नहीं बल्कि भाजपा सरकार के मंत्री नंद गोपाल नंदी थे। ये उनकी और उनकी पत्नी की लव स्टोरी है। 1995 में शादी के बाद उनके तीन बच्चे हैं।
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...
नंद गोपाल के करीबियों के मुताबिक उनकी शुरुआती लाइफ गरीबी में कटी है। 10वीं के बाद पढ़ाई छोड़ने वाले नंदी को बिजनेस जमाने का जुनून था। वे शुरुआत में बहादुरगंज की गलियों में बच्चों को ब्लैक एंड व्हाइट टीवी पर 50 पैसे में फिल्में दिखाते थे।
10वीं पास लड़के पर आया इस एमए पास बीजेपी मेयर का दिल, जानिए फिर क्या हुआ...
नंद गोपाल नंदी 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी से चुनाव मैदान में उतरे थे। इससे पहले वो बहुजन समाज पार्टी में भी रहे हैं और मायावती की सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। आज नंद गोपाल 88 करोड़ रुपए के मालिक हैं। बिजनेस के अलावा वे पॉलिटिक्स में भी एक्टिव रहे हैं। 2007 में वे मायावती सरकार में मंत्री बनाए गए थे।

From around the web