22 साल की युवती पर 17 साल के लड़के के यौन शोषण का आरोप, बन गयी उसके बच्चे की मां

 
22 साल की युवती पर 17 साल के लड़के के यौन शोषण का आरोप, बन गयी उसके बच्चे की मांमुंबई में 5 महीने की एक बच्ची की मां को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी महिला को पोक्सो एक्ट के तहत गिरफ्कार किया गया है. महिला पर 17 साल के किशोर के यौन उत्पीड़न का आरोप है.

हालांकि महिला का कहना है कि उसने पिछले साल लड़के से शादी की थी. महिला का कहना है कि वह 5 महीने की बच्ची की मां है. उसने जमानत के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. कोर्ट ने महिला को जेल में बच्ची के साथ रहने की इजाजत दे दी है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक किशोर की मां की ओर से पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है. हालांकि यह एफआईआर पिछले साल दिंसबर में दर्ज कराई गई थी, लेकिन अब जाकर महिला की गिरफ्तारी हुई है.

 पोक्सो एक्ट के अलावा महिला पर किडनैपिंग और चाइल्ड मैरिज एक्ट के तहत भी केस दर्ज किया गया है. महिला के अनुसार दोनों की शादी 8 नवंबर 2017 को हुई थी. आईपीसी की धारा के तहत 21 साल से कम उम्र के लड़के और 18 साल से कम उम्र की लड़की की शादी अपराध है.

2017 में किशोर की मां ने दर्ज कराई गई शिकायत में कहा था कि 23 नवंबर 2017 को रात 10 बजे महिला उनके घर आई और कहने लगे की उसने मेरे बेटे से शादी की है और अब वह इसी घर में रहेगी. जब मेरे पति ने इसका विरोध किया तो महिला ने उन्हें भला-बुरा कहा और खुद को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी.

11 बजे महिला हमारे घर से चली गई. इसके बाद मेरा बेटा भी घर से चला गया और वापस लौटने से इनकार कर दिया. किशोर की मां का कहना है कि महिला पहले दो बार शादी कर चुकी है और उसका तलाक भी हो चुका है.

किशोर की मां ने बताया कि उनकी दो बेटियां हैं जिनकी उम्र 20 और 18 साल है जबकि बेटे की उम्र 17 साल 8 महीने है. उनका कहना है कि दो साल पहले जबसे मेरा बेटा महिला के संपर्क में आया है उसका व्यवहार बदल गया है. मेरे बेटे से शादी का दावा करने वाली महिला कई बार जान देने की कोशिश कर चुकी है. एक बार उसने अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा ली थी वहीं एक बार जहर खा लिया था. इसका असर उनके बेटे पर पड़ा और 10वीं में फेल हो गया.


आरोपी महिला ने अपनी जमानत की अर्जी दाखिल की है जिसमें उसने कहा है कि मेरे पति की उम्र को लेकर परिवार झूठा दावा कर रहा है. मेरे पति और उनकी बड़ी बहन के बीच उम्र को लेकर जो फासला है वह मुमकीन नहीं है.

परिवार का कहना है कि एक बेटी की उम्र 18 साल है और मेरे पति की उम्र 17 साल 8 महीने बताई जा रही है. यह कैसे हो सकता है. आरोपी महिला का कहना है कि वह अपने पति के साथ रिलेशनशिप में है और उसने किसी तरह का अपराध नहीं किया है.

From around the web