मंत्री अनिता भदेल की 3 हजार महिला समर्थक बरसात में भी डटी रहीं, चौथी बार जता रही हैं दावेदारी

 
मंत्री अनिता भदेल की 3 हजार महिला समर्थक बरसात में भी डटी रहीं, चौथी बार जता रही हैं दावेदारीएसपी मित्तल 
100 भाजपा विधायकों के टिकिट काटे जाने की चर्चाओं के बीच भाजपा के 163 विधायक अपने-अपने क्षेत्र में वो सब कुछ कर रहे है जिससे नवम्बर में होने वाला विधानसभा चुनाव जीता जा सके। किसी भी विधायक को अपना टिकिट कटने की उम्मीद नहीं है। इसलिए हर विपरीत परिस्थिति में भाग दौड़ की जा रही है।

23 सितम्बर को अजमेर दक्षिण क्षेत्र की भाजपा विधायक और प्रदेश की महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती अनिता भदेल ने अपने क्षेत्र के दक्ष मेंशन के मैदान पर महिलाओं का सम्मेलन किया। इस सम्मेलन में सवाई माधोपुर की विधायक और राजघराने की राजकुमारी दीया कुमारी को खासतौर से बुलाया गया। दीया कुमारी को तब आश्चर्य हुआ जब बरसात में भी मंत्री भदेल की महिला समर्थक डटी रहीं। 23 सितम्बर को अजमेर में दिन भर बरसात का दौर चला। 

दीया कुमारी को तो उम्मीद थी कि महिलाओं का प्रोग्राम होने की वजह से बरसात में रद्द हो जाएगा, लेकिन राज्यमंत्री ने देखा कि अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित दक्षिण क्षेत्र की महिलाएं अपनी नेता भदेल की खातिर बरसात में बैठीं हैं। कोई तीन हजार महिलाओं ने जिस प्रभावी तरीके से सम्मेलन में उपस्थिति दर्ज करवाई, उससे मंत्री भदेल भी गदगद हैं। दीया कुमारी ने महिलाओं की हिम्मत की दाद देते हुए कहा कि इससे पता चलता है कि श्रीमती भदेल कितनी लोकप्रिय हैं। भदेल के प्रति महिलाओं का यह लगाव ही उन्हें चैथी बार चुनाव जितवाएगा। इस मौके पर भदेल ने अपनी समर्थकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि सीएम वसुंधरा राजे ने राजस्थान की महिलाओं के सम्मान को बढ़ाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी हैं।

परिवार का मुखिया अब पुरुष नहीं, महिला है और महिला के नाम पर बहुउद्देशीय भामाशाह कार्ड बनवाया गया है। आज जिस महिला के पास वसुंधरा राजे का भामाशाह कार्ड है, वह वाकई समाज की भामाशाह है। उसे मदद के लिए किसी के भी सामने हाथ पसारने की जरुरत नहीं है। पहले लड़की का जन्म होने पर परिवार में मायूसी नजर आती थी, लेकिन अब लड़की को 50 हजार रुपए तक की राशि मिलती है। कांग्रेस के लोग महिलाओं की इज्जत नहीं करते, जबकि भाजपा के शासन में महिलाओं का सम्मान बढ़ा है। उल्लेखनीय है कि श्रीमती भदेल 2003 में पहली बार विधायक बनी थी और लगातार तीन बार चुनाव जीत चुकी हैं। विधायक बनने से पहले भदेल अजमेर नगर परिषद की सभापति भी रही। राजनीति में आने से पहले भदेल राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सेवा भारती परिवार में पिछड़ी बस्तियों में बच्चों को पढ़ाने का कार्य सेवा की भावना से करती थीं। आज वही सामान्य शिक्षिका प्रदेश की महिलाओं के लिए प्रेरणा की स्त्रोत है। इसके लिए श्रीमती भदेल को मोबाइल नम्बर 9829270288 पर बधाई दी जा सकती है।

From around the web