7 साल की रिफाह तस्कीन ने एयरक्राफ्ट उड़ाकर रचा इतिहास

 
7 साल की रिफाह तस्कीन ने एयरक्राफ्ट उड़ाकर रचा इतिहासनई दिल्ली।  रिफाह तस्कीन नाम की एक 7 साल की मैसूर की बच्ची ने 17 तरह की गाड़ियां चलाकर और एयरक्राफ्ट उड़ाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया है, जिसके बाद दुनिया अचंभित कर दिया है,ये दुनिया की सबसे कम उम्र गाड़ियां चलाने वाली बच्ची हैं।

मैसूर के बन्नीमंटाप में सेंट जोसेफ स्कूल की दूसरी कक्षा की छात्रा रिफाह अपने पिता को अपना प्रेरणास्रोत मानती है। उसके पिता ताजुद्दीन कभी रेसर हुआ करते थे। फिलहाल वह टाइल्स का बिजनेस करते हैं। वहीं रिफाह की मां एक सरकारी स्कूल में अध्यापिका हैं। रिफाह लॉरी, महिंद्रा बोलेरो, टाटा एस, महिंद्रा स्कॉर्पियो, टॉयोटा फॉर्च्युनर, मारुति 800, मारुति वैन, मारुति एस्टीम, जेन, सैंट्रो, फोर्ड, वेरना, इंडिका के साथ-साथ स्पोर्ट्स कार क्वॉड बाइक भी चला चुकी है। इस कारनामे की वजह से 6 नवंबर 2017 को उसे गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में जगह मिली।

हालांकि रिफाह की उम्र अभी काफी कम है इसलिए उसे सरकार की अनुमति के लिए इंतजार करना पड़ा। पिता ताजुद्दीन ने उसके लिए सीट को मोडिफाई किया ताकि पैर आसानी से ब्रेक और एक्सलरेटर तक पहुंच सके। अभी हाल ही में रिफाह ने बन्नीमंटाप के ईदगाह मैदान पर 15 मिनट तक दस चक्का ट्रक भी चलाया जिसकी ट्रेनिंग पिता ने दी थी। ताजुद्दीन बताते हैं कि उनका सपना एक रेसर बनने का था, लेकिन कई वजहों से वे ऐसा नहीं कर सके। अब वे अपनी बेटी को इंटरनेशनल रेसक बनाने का सपना देख रहे हैं।
7 साल की रिफाह तस्कीन ने एयरक्राफ्ट उड़ाकर रचा इतिहास
एक इंटरव्यू में रिफाह ने कहा अपने माता-पिता और आगे की योजनाओं के बारे में बात की। उसने कहा, ‘यह सब मेरे पापा की बदौलत संभव हुआ। उन्होंने मेरा उत्साह बढ़ाया और हर एक कदम पर मेरा साथ दिया। यही वजह है कि मैं इतना कुछ हासिल कर पाई। मैं अभी बहुत कुछ करना चाहती हूं और अपने माता-पिता को गौरवान्वित करवाना चाहती हूं। आने वाले समय में मैं कार रेसिंग में हिस्सा लूंगी।’ 7 साल की उम्र में दुनिया को हैरान कर देने वाली रिफाह बड़ी होकर फाइटर पायलट बनना चाहती हैं। वैसे भी जिसके इरादे मजबूत होते हैं उसके लिए कोई भी मंजिल मुश्किल कहां होती है।

From around the web