आधार कार्ड बनवाने गई लड़की को बंधक बना गैंगरेप

 
आधार कार्ड बनवाने गई लड़की को बंधक बना गैंगरेपदिल्ली में आधार कार्ड बनवाने गई एक युवती के साथ बंधक बना गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। घटना सुल्तानपुरी थाना इलाके की है। आरोप है कि गैंगरेप करने के बाद आरोपियों ने लड़की को इस बात के बारे में किसी को नहीं बताने की धमकी दी और उसे सड़क पर बेसुध छोड़कर चले गए।

युवती काफी देर उसी हालत में सड़क पर भटकती रही। युवती को संदिग्ध हालत में सड़क पर भटकते देख एक व्यक्ति ने इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस को दी। मौके पर पहुंची सुल्तानपुरी थाना की पुलिस युवती को अपने साथ ले गई।

युवती के बयान के आधार पर दो लोगों के खिलाफ गैंगरेप और अप्राकृतिक दुष्कर्म की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। आरोपियों का नाम किशन और जमुना दास है।

स्थानीय अखबार में छपी खबर के मुताबिक, युवती अपने परिवार के साथ सुल्तानपुरी इलाके में रहती थी। कुछ दिनों पहले उसका पर्स चोरी हो गया था। इस वजह से पर्स में रखे आधार कार्ड, पैसे सहित अन्य जरूरी दस्तावेज गुम हो गए। लड़की की पहचान आधार कार्ड बनवाने वाले एक व्यक्ति किशन से थी।

दोनों एक दूसरे को लंबे समय से जानते थे। इस वजह से युवती ने 15 दिसंबर को आधार कार्ड बनवाने के लिए किशन से बात की। किशन ने युवती को शाम में सुल्तानपुरी बस स्टैंड के समीप आने को कहा।

युवती किशन के कहने पर शाम में सुल्तानपुरी बस स्टैंड पहुंची, जहां वह पहले से ही अपनी गाड़ी लेकर खड़ा था। यहां से किशन युवती को लेकर आधार कार्ड ऑफिस गया। सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद किशन ने युवती को बंधक बना लिया और अपने दोस्त जमुना दास के फ्लैट पर ले गया। यहां दोनों ने मिलकर युवती के साथ गैंगरेप किया। गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों ने युवती को मुंह बंद रखने की धमकी दी और उसे बेसुध हालत में सड़क पर छोड़ गए।

From around the web