तीन राज्यों के झटके के बाद प्रधानमंत्री ने कहा GST को सरल बनाएंगे

 
तीन राज्यों के झटके के बाद प्रधानमंत्री ने कहा GST को सरल बनाएंगेएसपी मित्तल 
राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे बड़े और हिन्दी भाषी राज्यों में भाजपा की सरकार गंवा देने के बाद 18 दिसम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि जीएसटी को और सरल बनाया जाएगा, ताकि छोटे दुकानदारों को परेशानी न हो। अब देश ऐसे मुकाम पर पहुंच गया है जहां 99 प्रतिशत वस्तुओं को 18 प्रतिशत टैक्स के दायरे में लाया जा सकता है। 

हवाई जहाज, हेलीकाॅप्टर, महंगी कार, शराब, सिगरेट जैसी वस्तुओं को छोड़कर सभी पर 18 प्रतिशत टैक्स लगाने पर विचार हो रहा है। मैंने स्वयं जीएसटी काउंसिल को अपने सुझाव भेज दिए है। कोई भी देश समान कर प्रणाली से ही तरक्की कर सकता है। 2013 तक जहां देश में 65 लाख करदाता थे, वहां अब 55 लाख नए कर दाता जुड़ गए हैं। यानि लोगों में टैक्स देने की प्रवृत्ति बढ़ी है। 

18 दिसम्बर को मुम्बई में रिपब्लिक टीवी के एक समारोह में मोदी ने कहा कि घरेलू दबाव के बाद भारत ने विदेश नीति पर तुष्टीकरण को हावी नहीं होने दिया है। यही वजह है कि तेल उत्पादक देशों की सर्वोच्च संस्था ओपेक में भारत की राय मानी जाती है, जबकि भारत ओपेक का सदस्य नहीं है। हमारी मजबूत विदेश नीति की वजह से दुनिया में भारत के पासपोर्ट का महत्व बढ़ा है। 

अब भारत के नागरिक को भी सम्मान के साथ देखा जाता है। मोदी ने कहा कि कुछ लोग देश को भ्रमित कर रहे हैं, लेकिन मुझे सत्य और शक्ति पर भरोसा है। भारत के लोग सत्य पर भरोसा करेंगे। समारोह में मोदी ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई और कहा कि अब हर नागरिक के पास अपना घर होगा। मेरी सरकार का उद्देश्य बच्चों को पढ़ाई युवाओं को कमाई तथा बुजुर्गो को दवाई का है।

मीडिया अंतर्राष्ट्रीय पहचान बनाए
मोदी ने कहा कि भारत की मीडिया को अंतर्राष्ट्रीय पहचान बनानी चाहिए। अब जब सैटेलाइट का युग है, तब भारत के मीडिया को भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि मीडिया टू विंडों पर काम कर रहा है। यानि किस नेता ने पूर्व में क्या कहा था के साथ ताजा बयान दिखाया जाता है। प्रधानमंत्री कार्यालय में भी टू विंडो सिस्टम चल रहा है। 2013 से पहले के हालातों की तुलना अब के हालातों से की जाती है। हालांकि रिपब्लिक टीवी अंग्रेजी भाषा का है, लेकिन मोदी ने पूरा भाषण हिन्दी में दिया। मोदी ने माना कि जब फुर्सत होती है, तब में अर्णव को रिपब्लिक टीवी पर देखता हूं।

From around the web