अनशन पर बैठे अन्ना हजारे ने दी धमकी- लौटा दूंगा पद्म भूषण

 
अनशन पर बैठे अन्ना हजारे ने दी धमकी- लौटा दूंगा पद्म भूषणलोकपाल गठन की मांग को लेकर समाजसेवी अन्ना हजारे के अनशन का आज यानी सोमवार को छठा दिन है. केंद्र सरकार के रवैये से नाराज अन्ना ने राष्ट्रपति को अपना पद्म भूषण सम्मान वापस लौटाने की बात कही है.

रविवार को उन्होंने कहा कि मैंने यह सम्मान पाने के लिए काम नहीं किया था. आपने (सरकार) इसे मुझे इसलिए दिया था क्योंकि मैं देश के लिए सेवाभाव से काम कर रहा था. अब यदि देश और समाज इस हालत में है तो मैं इसे (पद्म भूषण) को अपने पास क्यों रखूं.

81 वर्षीय अन्ना हजारे को वर्ष 1992 में देश का तीसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान दिया गया था. स्पष्ट है कि अन्ना यदि पद्म सम्मान लौटाते हैं तो उनका नाम भी अवार्ड वापस करने वाले लोगों में शामिल हो जाएगा.

बीते बुधवार से अपने गांव रालेगण सिद्धि में भूख हड़ताल पर बैठे अन्ना ने इससे पहले रविवार को सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा था कि यदि उन्हें कुछ होता है तो देश की जनता इसके लिए प्रधानमंत्री को जिम्मेदार माने.

रविवार सुबह ही अन्ना हजारे का डॉक्टर धनंजय पोटे ने हेल्थ चेकअप किया था. इसमें अनशन के शुरुआती पांच दिनों में उनका वजन 3.8 किलोग्राम कम होने की बात सामने आई थी, साथ ही उनका रक्तचाप, रक्त में शर्करा की मात्रा (ब्लड शुगर), मूत्र में क्रिटनिन की मात्रा भी बढ़ी हुई मिली थी.

From around the web