DGP की पहल पर 25 हजार सिपाही बने हेड कांस्टेबल

 
DGP की पहल पर 25 हजार सिपाही बने हेड कांस्टेबललखनऊ। पुलिस भर्ती बोर्ड ने डीजीपी की पहल पर 25, 091 सिपाहियों (आरक्षी) को मुख्य आरक्षी (हेड कांस्टेबल) के पद पर प्रमोशन के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। पुलिस महकमे में पहली बार इतनी बड़ी तादात में एक साथ सिपाहियों को प्रमोशन दिया गया है। इससे पहले वर्ष-2016 में 8,762 और वर्ष-2017 में 5030 आरक्षियों को मुख्य आरक्षी के पद पर प्रोन्नत किया गया था। बोर्ड द्वारा इससे संबंधित आदेश जारी कर दिया गया है।

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि विभाग में 1975 से लेकर 2004 तक के काफी सिपाहियों को प्रमोशन नहीं मिला था, जिससे करीब 29,000 मुख्य आरक्षी के पद रिक्त थे। इन्हें भरने के लिए सिपाहियों को प्रमोशन देने का प्रस्ताव पिछले दिनों पुलिस भर्ती बोर्ड को भेजा गया था।

इसमें से ही 25091 सिपाहियों को प्रमोशन की मंजूरी मिल गई है। डीजीपी ने बताया कि इस वर्ष अराजपत्रित श्रेणी के कुल 36,062 पुलिसकर्मियों को भी प्रोन्नत किया गया है। इनमें से 25,091 सिपाहियों के अतिरिक्त करीब 7600 मुख्य आरक्षी से उप निरीक्षक के पद पर और करीब 2100 उप निरीक्षकों को निरीक्षक बनाया गया है। डीजीपी ने बताया कि वर्ष-2016 में कुल 15,803 और वर्ष-2017 में 8,910 अराजपत्रित पुलिसकर्मियों को प्रमोशन दिया गया था।

From around the web