बारात लेकर दूल्हे के घर पहुंची बुलेट वाली दुल्हन

 
बारात लेकर दूल्हे के घर पहुंची बुलेट वाली दुल्हनपुणे।  दौंड इलाके में बुधवार दोपहर 3 बजे हुई एक शादी चर्चा का विषय बनी हुई है। इसमें दुल्हन खुद बुलट पर बैठ अपनी बरात लेकर दूल्हे के घर तक पहुंची और वहां बने मंडप में शादी रचाई।

लड़की के पिता एक किसान हैं। लड़की द्वारा ऐसा करने के पीछे समाज को यह संदेश देना था कि लड़कियां किसी भी मायने में लड़कों से कम नहीं है। बारात ले करा जाना सिर्फ लड़कों का कॉपीराइट नहीं है। 

दौंड तहसील के केडगांव की बेटी कोमल देशमुख दुल्हन के लिबास में सज-धज कर बुलेट पर निकली तो देखने वालों को लगा कि यह किसी फिल्म कि शूटिंग चल रही है। चमचमाती बुलेट पर बैठी कोमल ने लाल जोड़ा और काला चश्मा पहना था। अपने साथ कारों का एक बड़ा काफिला लेकर तकरीबन 5 किलोमीटर का सफर पूरा कर कोमल अपने दूल्हे के घर पहुंची और शादी रचाई।

बाद में कोमल के पिता ने वही बुलेट अपनी बेटी को शादी के गिफ्ट के तौर पर दे दी। किसान पिता ने बताया कि बेटी बुलेट चलाती है। जब बेटी ने मंडप तक बुलेट से जाने की इच्‍छा जताई तो वे राजी हो गए और ससुराल वालों ने भी कोई आपत्ति नहीं जताई।

जहां दुल्‍हन बुलेट से आ रही थी वहीं पूरा गांव मंडप में जुटा था और बाराती नाचते-कूदते हुए शादी की जगह पर पहुंच रहे थे। इस दौरान कोमल की बारात का जोरदार स्‍वागत किया गया।  

From around the web