बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की पत्नी बोली- मिलती थी धमकी

 
बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की पत्नी बोली- मिलती थी धमकीबुलंदशहर में भीड़ की हिंसा का शिकार हुए स्याना इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी ने घटना को सोची-समझी साजिश करार दिया है।

उन्होंने कहा कि उनके पति को जान से मारने की धमकियां मिलती थीं। उन्होंने कहा कि उन्हें हर हाल में न्याय चाहिए और उनके पति के हत्यारों को पुलिस गिरफ्तार करे। वहीं उन्होंने यूपी सरकार से नाराजगी जताई है।

सुबोध कुमार सिंह की पत्नी ने कहा, 'मेरे पति को अक्सर धमकियां मिलती रहती थीं। वह अखलाक केस की जांच कर रहे थे इसलिए उन पर हमला हुआ था। यह एक सोची समझी-साजिश थी।' उन्होंने आगे कहा कि उनके पति के हत्यारों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

सुबोध कुमार सिंह के परिवार ने सीएम योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार से नाराजगी जताते हुए कहा कि सीएम के पास उनके परिवार से मिलने के लिए फुर्सत नहीं है। उनके राज में पुलिस पर हमले हो रहे हैं और वह अभी तक चुप हैं।

इस बीच इंस्पेक्टर सुबोध का उनके एटा स्थित पैतृक गांव तिरिगवां में अंतिम संस्कार किया गया। बड़े बेटे श्रेय ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी। इससे पहले दिवंगत इंस्पेक्टर के परिजनों ने उन्हें शहीद का दर्जा दिए जाने तक अंतिम संस्कार कराने से इनकार कर दिया था। पुलिस अफसरों की मान-मनौवल के बाद इंस्पेक्टर सुबोध के परिजन राजी हो गए। 

From around the web