बच्चे ही समाज व् देश के करणधार है, उनको शिक्षित अवश्य करना चाहिए : लक्ष्य

 
बच्चे ही समाज व् देश के करणधार है, उनको शिक्षित अवश्य करना चाहिए : लक्ष्यराकेश पांडेय, वाराणसी। लक्ष्य द्वारा संचालित सिद्धार्थ कोचिंग सेंटर द्वारा राष्ट्र माता  सावित्री बाई फुले का जन्मदिन ग्राम, नुआंव  व पोस्ट नेपुरा जिला वाराणसी में बड़े हर्षोल्लास से  मनाया गया और गांव में प्रभात फेरी भी निकाली गई।

बच्चों द्वारा रैली निकाले जाने पर बहुत ही हर्ष उल्लास का माहौल छाया हुआ था बच्चे और नौजवान सभी लोग माता सावित्रीबाई फुले अमर रहे ज्योतिबा फुले अमर रहे बाबा साहब भीमराव अंबेडकर अमर रहे नारे लगाते हुए चल रहे थे और बच्चो ने गीत के माधयम से माता सावित्री बाई फुले के योगदान को समझाया |

इस अवसर पर बच्चो ने केक काटकर अपनी ख़ुशी जाहिर की | बच्चे ही समाज व् देश के करणधार है, उनको शिक्षित अवश्य करना चाहिए | यह बात लक्ष्य कमांडरों ने कही |

लक्ष्य कमांडरों ने राष्ट्र माता सावित्री बाई फुले के योगदान के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि वे देश की  पहली महिला शिक्षका थी | उन्होंने महिलाओ की शिक्षा के लिए कटटरपन्तियो की सामाजिक उत्पीड़ा भी सहन की और महिलाओ के लिए देश में सर्वप्रथम शिक्षा का दुवार खोला | 

शिक्षा ही मनुष्य को अच्छे बुरे मार्ग के बारे में अवगत कराती  है और जो लोग शिक्षित  नहीं होते है  वो लोग जीवन भर अंधकार में भटकते रहते है | शिक्षा के बलबूते   ही मनुष्य अपना  मार्ग  स्वंय ढूंढ लेता है इसलिए हमें बच्चो को शिक्षित अवश्य करना चाहिए | लक्ष्य कमांडरों ने कहा कि बच्चो की शिक्षा के लिए इस प्रकार के कोचिंग अन्य गाँवो में भी खोले जायेंगे ताकि कमजोर तबके के बच्चे भी अच्छी शिक्षा ग्रह कर सके | गांवसीयो ने लक्ष्य टीम के इस प्रयास की जोरदार प्रशंशा की। 

इस अवसर पर  लक्ष्य कमांडर सुरेश प्रसाद, राजीव कुमार , चंद्रमा प्रकाश, गोविंद, प्रदीप कुमार राहुल आदि  भी  विशेषतौर से शामिल हुए |

From around the web