8 लाख के ईनामी समेत 3 नक्सली गिरफ्तार, एक ने किया समर्पण

 
8 लाख के ईनामी समेत 3 नक्सली गिरफ्तार, एक ने किया समर्पण
जगदलपुर। छत्तीसगढ़ की दंतेवाड़ा जिला पुलिस ने अलग-अलग थाना क्षेत्रों में दबिश देकर 8 लाख के ईनामी समेत 3 नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इधर एक नक्सली से आत्मसमर्पण किया है। बस्तर आईजी विवेकानंद सिंहा ने बताया कि ग्राम मड़कामीरास में पुलिस नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ के बाद भागने में कामयाब रहा 8 लाख के इनामी नक्सली हिड़मा कवासी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल मुठभेड़ के दौरान भागते वक्त उसके पैरों में मोच आ गई थी। इसका इलाज वह पेरपा गुजापारा में करा रहा था। खबर मिलते ही अविलंब पेरपा गुजापारा के जंगल की घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया गया। हिड़मा मलांगिर एरिया कमेटी एक्शन टीम कमांडर, टेक्नीकल टीम प्रभारी, आईईडी एक्सपर्ट है।
एक अन्य कार्रवाई में कुआकोंडा थाना क्षेत्र से दो जनमिलिशिया सदस्यों को भी गिरफ्तार करने में पुलिस को कामयाबी मिली है। इनमें एक रेवाली निवासी हड़मा मड़काम, जबकि दूसरा चिरमुर निवासी देवा बारसे है। इन्हें पुलिस ने जबेली के जंगल से गिरफ्तार किया है। दोनों ने पुलिस को बताया कि नक्सली गुण्डाधुर के कहने पर संगठन में शामिल हुए व नक्सली विचारधारा का प्रचार करते हैं। गुण्डाधुर के कहने पर ही पंापलेट फेंकने जबेली की ओर आए थे। गिरफ्तार सभी नक्सलियों से नक्सली गतिविधियों के संबंध में कई जानकारियां मिली हैं।
इस बीच मलांगिर एरिया कमेटी सप्लाई टीम के सदस्य नीलू भास्कर ने नक्सल विचारधारा को छोड़कर सरेंडर किया है। यह 5 साल से नक्सली संगठन से जुड़कर काम कर रहा है। नीलू साल 2018 तक आंध्रप्रदेश में रहकर नक्सलियों के लिए विस्फोटकों, दवाइयों, राशन, वर्दी कपड़े सहित अन्य सामान की सप्लाई करता था। वर्तमान में पेरपा में रहकर पुलिस पार्टी पर नजर रखने, संतरी ड्यूटी करने, नक्सलियों के लिए सामान सप्लाई सहित अन्य काम कर रहा था। 

From around the web