राहुल गांधी से मुलाकात के बाद अलवर गैंगरेप की शिकार युवती और उसका पति संतुष्ट...

 
राहुल गांधी से मुलाकात के बाद अलवर गैंगरेप की शिकार युवती और उसका पति संतुष्ट...
एसपी मित्तल 
16 मई को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान के बहुचर्चित अलवर गैंगरेप की शिकार युवती और उसके पति से थानागाजी पहुंचकर मुलाकात की। युवती की पहचान को छिपाए रखने के लिए राहुल ने घर के बजाए अन्यंत्र स्थान पर मुलाकात की। राहुल से मुलाकात के बाद पीडि़ता के पति ने मीडिया से कहा कि अब हम पूरी तरह संतुष्ट है।

हमारी जो विधिक मांगे थी उसे राहुल गांधी के समक्ष पर रख दिया है। पीडि़त ने सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट को भी धन्यवाद दिया। मुलाकात के समय राहुल के साथ गहलोत और पायलट भी थे। इस अवसर पर राहुल ने कहा कि मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं। मेरे लिए यह इमोशनल इश्यू है। मैं आरोपियों के विरुद्ध ऐसी कार्यवाही चाहता हंू जिससे पूरे हिन्दुस्तान में मैसेज दिया जाए।

घटना की जानकारी मिलते ही मैंने सीएम गहलोत से फोन पर पूरी जानकारी ली। हम ऐसी घटना को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। राहुल गांधी की उपस्थिति में सीएम गहलोत ने कहा कि सात दिन में आरोपियों के विरुद्ध चालान पेश हो जाएगा। पीडि़त को नौकरी की व्यवस्था की जा रही है। भाजपा का आरोप गलत है कि प्रदेश के 6 मई को मतदान होने तक मामले को दबाए रखा। पुलिस ने दो मई को ही रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। सरकार इस मामले को लेकर बेहद गंभीर है।

रेप की शिकार माासूम से नहीं मिले
थानागाजी गैंगरेप की शिकार महिला से मुलाकात के बाद जब राहुल गांधी मीडिया से संवाद कर रहे थे, तभी एक पत्रकार ने सावल पूछा कि पड़ौस में ही एक छह वर्ष की मासूम बच्ची के साथ बलात्कार हुआ है, क्या आप इस मासूम से भी मिलने जाएंगे? इस पर राहुल गांधी ने कहा कि आज उनके कार्यक्रम में बच्ची से मिलने का प्रोग्राम नहीं है। चूंकि बिहार में उनकी जरूरी मीटिंग है इसलिए उन्हें दिल्ली जाकर बिहार पहुंचना है।

गहलोत राहुल के साथ दिल्ली गए
सीएम अशोक गहलोत का राहुल के साथ ही हेलीकॉप्टर में दिल्ली जाना राजनीति में चर्चा का विषय बना रहा। गहलोत 14 मई से ही दिल्ली में व्यस्त है। 16 मई को गहलोत राहुल गांधी के साथ ही हेलीकॉप्टर से थानागाजी आएा। हालांकि पीडि़ता से मुलाकात के समय डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी साथ थे, लेकिन मुलाकात के बाद पायलट सड़क मार्ग से जयपुर के लिए रवाना हो गए।

जानकार सूत्रों के अनुसार अशोक गहलोत इन दिनों राष्ट्रीय राजनीति में भी सक्रिय है। श्रीमती सोनिया गांधी के दिशा निर्देश पर गहलोत विपक्षी दलों के नेताओं से सम्पर्क साध रहे हैं। हो सकता है कि 23 मई को परिणाम आने से पहले दिल्ली में विपक्षी दलों की बैठक हो।

From around the web