ट्विटर पर ही इस्तीफा भेजने को कहा, अब उसे स्वीकार क्यों नहीं कर रहे केजरीवाल: अलका लांब

 
ट्विटर पर ही इस्तीफा भेजने को कहा, अब उसे स्वीकार क्यों नहीं कर रहे केजरीवाल: अलका लांबा
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी से बगावत कर चुकी चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा ने जब पार्टी छोड़ने का निर्णय लिया था तो पार्टी के नेताओं की ओर से कहा गया कि वो ट्विटर पर ही इस्तीफा भेज दें। स्वीकार कर लिया जायेगा। लेकिन अलका के मुताबिक़ अब पार्टी के नेता पलट गए हैं।

अलका ने ट्वीट कर कहा कि- केजरीवाल जी ने घमंड में आकार पार्टी से ट्विटर पर ही इस्तीफ़ा देने को कहलवाया। मैंने ट्विटर पर इस्तीफ़ा दे भी दिया। आज विधानसभा अध्यक्ष को मेरे ख़िलाफ़ कार्रवाई के लिए ट्विटर पर इस्तीफ़ा पर्याप्त नहीं लगा,तो कल शाम तक इस्तीफ़ा देने को कहा, जिसे देने से मेरी जनता ने मना कर दिया।

अलका अपनी ट्वीट में लिखी हैं – अरविंद केजरीवाल जी, आपके प्रवक्ताओं ने मुझे आपकी इच्छा के अनुसार पूरे अहंकार के साथ कहा कि पार्टी ट्विटर पर भी मेरा इस्तीफा स्वीकार कर लेगी। इसलिए कृपया “आम आदमी पार्टी”, जो अब “ख़ास आम आदमी पार्टी” बन चुकी है, की प्राथमिक सदस्यता से मेरा इस्तीफा स्वीकार करें।‘

From around the web