आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है: कमल हासन

 
आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है: कमल हासन
लोकसभा चुनाव के बीच हिंदू आतंकवाद के मुद्दे पर चल रही बड़ी बहस के बीच एक और बयान आया है। मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला ‘आतंकवादी हिन्दू’ था।

वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे। रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, उन्होंने कहा, मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं। आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई।

महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आये हैं। बता दें कि इस चुनाव में हिंदू आतंकवाद का मुद्दा अपने चरम पर है। जब भारतीय जनता पार्टी ने मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से मालेगांव आतंकी ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को टिकट दिया, तो विपक्षी पार्टियों ने इस पर सवाल खड़े कर दिए।

विपक्ष के सवाल उठाने के बावजूद बीजेपी इस मुद्दे पर आक्रमक ही रही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत पूरी बीजेपी ने इस मुद्दे पर कांग्रेस को घेरा और उनपर हिंदुओं को अपमानित करने का आरोप लगाया।

From around the web