आज़म खान के लोगों ने यतीमखाना पीड़ितों को धमकाया, DM से शिकायत

 
आज़म खान के लोगों ने यतीमखाना पीड़ितों को धमकाया, DM से शिकायत
रामपुर। यतीमखाना के पीड़ित परिवार आज ज़िलाधिकारी से मिले और शिकायत दर्ज कराई कि समाजवादी पार्टी के कुछ गुंडों द्वारा हम पर मुकदमें वापस लेने का दवाब बनाया जा रहा है कहा कुछ अज्ञात गुंडे हमारी बस्ती में आए थे जिनको हम शक़्ल से जानते हैं और सामने आने पर पहचान लेंगे उनके साथ मुरादाबाद और सहारनपुर के भी दो लोग थे वह लोग हमसे कह रहे थे कि हमे आज़म खान ने भेजा है।

उन्होंने कहा है कि तुम लोगों ने आज़म खान पर जो मुकदमें कराए हैं उन्हें वापस ले लो वरना तुम्हारा अंजाम बहुत बुरा होगा आज़म खान ने कहलवाया है कि तुम्हें अखिलेश यादव और मीडिया के सामने आकर यह कहना पड़ेगा कि यह मुकदमें हमने दबाव में लिखवा दिए थे इसके बदले हम तुम्हें लाखों रुपये देंगें और माफ भी कर देंगें।

वरना आने वाला वक्त समाजवादी पार्टी का है और यह अधिकारी और तुम्हारी पैरवी करने वाला तुम्हारा नेता फैसल लाला तुम्हे बचाने नही आएंगे तुम्हारा वह हश्र किया जाएगा कि तुमने सपने में भी नही सोचा होगा वह कह रहे थे कि शायद तुम वह दिन भूल गए जब हमने तुम्हारे घरों में लूटपाट कराई थी और बुलडोज़र चलवाया था इसलिए अच्छा होगा कि समझौता कर लो और 14 सितंबर को अखिलेश यादव जी की मौजूदगी में मीडिया के सामने हमारे पक्ष में बयान दो।

पीड़ितों ने डीएम से कहा कि हम बहुत खौफ में हैं अभी तक हमारी जगह भी हमे वापस नही मिली है और जो मुकदमें हमने आज़म खान के विरूद्ध दर्ज कराऐ थे उन पर भी अभी तक न तो कोई कार्यवाही हुई है और नही आज़म खान की गौशाला ने हमारी भैंसे वापस की हैं और न ही आज़म खान को पुलिस ने अभी तक गिराफ्तार किया है।

पीड़ितों ने डीएम से गुहार लगाई है कि हम पर दबाव बनाने वाले समाजवादी गुंडों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाए साथ ही हमारी बस्ती में पर्याप्त सुरक्षा तैनात की जाए और हमे जल्द से जल्द इंसाफ दिया जाए।

ज़िलाधिकारी ने आश्वान दिया है कि क़ानून के ऊपर कोई नही है, डरने की ज़रूरत नहीं, धमकाने वालों के खिलाफ जांच कराकर कार्यवाही की जाएगी। साजिद अली, नन्ने अली, मुन्ने अली, बन्ने अली, ज़ाकिर अली, अब्दुल सलाम, अब्दुल इसहाक, शौकीन, सरफ़राज़, मौहम्मद फारूक, लल्ला आदि लोगों ने शिकायत दर्ज कराई है।

From around the web