मौसम का मिजाज बिगड़ा, धूल भरी आंधी चली...

 
मौसम का मिजाज बिगड़ा, धूल भरी आंधी चली...
ठाकुरद्वारा। बुधवार सुबह से मौसम का मिजाज बिगड़ा नजर आया। सुबह दस बजे आसमान पर बादल छाए। इसके साथ ही तेज हवा चलने लगी। दोपहर होते-होते तेज गति से धूल भरी हवाओं ने राहगीरों को काफी परेशान किया। कुछ क्षेत्रों में हल्की फुहारें पड़ीं।
मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अगले चौबीस घंटों तक ऐसा ही बना रहेगा। बादल बनेंगे। इससे गर्मी का एहसास कम होगा। हालांकि बारिश की संभावना नहीं है। पंत नगर स्थित कृषि विवि में मौसम वैाज्ञानिक डा. एचएच कुशवाहा ने बताया कि लो प्रेशर लोकल सिस्टम बनने से मौसम में यह परिवर्तन आया है। उन्होंने बताया कि पंद्रह मई से पंद्रह जून तक दस से चालीस किमी तक के क्षेत्र में लोकल सिस्टम बनने की प्रक्रिया चलती है। इस दौरान हवा तेज और घुमावदार चलती है। इससे हल्की बूंदाबांदी होती है और तापमान में कमी आती है।
उन्होंने बताया कि अगले दो तीन दिनों तक लू भरी भीषण गर्मी से राहत रहेगी। इससे अधिकतम तापमान में कमी बनी रहेगी लेकिन न्यूनतम तापमान में अधिकता बनी रहेगी। डा. कुशवाहा ने बताया कि बीस मई के बाद प्री मानसून बारिश का सिस्टम बनने की संभावना है। जीआईसी में मौसम प्रभारी निसार अहमद अंसारी ने बताया कि बुधवार को अधिकतम तापमान 36.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

From around the web