गुंडा, माफिया, आतंकवादी है भाजपा का प्रत्याशी: मायावती

 
गुंडा, माफिया, आतंकवादी है भाजपा का प्रत्याशी: मायावती
गोंडा।  बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने गुरूवार को कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष व कैसरगंज सीट से भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह पर सीधा हमला बोला। पार्टी के चुनाव कार्यालय पर हुए तोडफ़ोड़ से नाराज मायावती ने कहा कि भाजपा का प्रत्याशी आपराधिक छवि का माफिया, गुंडा व आतंकवादी है और इस तरह के गुंडों से कैसे निपटना है यह मायावती को अच्छी तरह से आता है।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने कुंडा के राजा भइया रघुराज के खिलाफ की गई कार्रवाई की याद दिलाते हुए कहा कि भाजपा प्रत्याशी को इस कार्रवाई से सबक लेना चाहिए। मायावती ने कहा कि आंतकियों के लड़ाई का दावा करने वाली भाजपा में ही आतंकवादी भरे पड़े हैं। बसपा सुप्रीमो ने भारतीय जनता पार्टी को अपने घर के भीतर के आतंकवाद को समाप्त करने की नसीहत भी दी।
कैसरगंज लोकसभा सीट गठबंधन में है और बसपा ने यहां से आजमगढ़ जिले के रहने वाले अपने पूर्व मंत्री चंद्रदेव राम यादव करैली को चुनाव मैदान मे उतारा है। गुरूवार को बसपा सुप्रीमो मायावती चंद्रदेवराम यादव के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करने कटरा बाजार पहुंची। मायावती ने अपने संबोधन मे सीधे भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह को निशाने पर लिया। मायावती ने कहा कि बसपा ने पहले स्थानीय कार्यकर्ता के टिकट दिया था। लेकिन बीजेपी के माफिया व आपराधिक छवि के प्रत्याशी ने डरा धमकाकर उसे बैठा दिया। इसके बाद उन्होने आजमगढ़ के चंद्रदेव राम यादव को मैदान मे उतारा है। मायावती के संबोधन मे करीब पांच मिनट भाजपा प्रत्याशी सीधे निशाने पर रहे। मायावती ने कहा कि भाजपा का प्रत्याशी लोगो को डरा धमकाकर उनका उत्पीडऩ करता है। उसके आतंक के आगे कोई मुंह नहीं खोलता। हाल ही उसने बसपा के चुनाव कार्यालय पर हमला भी कराया है। मायावती ने भाजपा नेता को चेतावनी देते हुए कहा कि गुंडागर्दी बंद कर दें वरना मायावती को गुंडों और माफियाओं से निपटना अच्छी तरह से आता है। मायावती ने कुंडा के राजा रघुराज प्रताप सिंह का नाम लेते हुए कहा कि राजा भइया के खिलाफ की गई कार्रवाई से यहां के माफिया को सबक लेना चाहिए। मायावती ने कहा कि गुंडागर्दी करने वाले माफिया को हर हाल मे हराकर इस आतंक को खत्म करना है। बसपा सुप्रीमो ने भाजपा आंतकियों के लडऩे का दावा करती है लेकिन उसके घर में ही आतंकवादी भरे पड़े है। इसलिए बीजेपी पहले अपने अंदर के आतंक को खत्म करे।
बसपा प्रमुख मायावती मे कहा कि बसपा चुनाव घोषणा पत्र जारी नहीं करती। वह काम करने मे विश्वास करती है। मायावती ने कहा कि बीजेपी ने घोषणा पत्र मे जो वादा किया था उसे पूरा नहीं किया। 15 लाख का वादा भी पूरा नही किया। सबका साथ सबका विकास सिर्फ जुमलेबाजी है। इसी तरह का वादा कांग्रेस भी कर रही है। 6 हजार देने पर गरीबी दूर नही होगी। कांग्रेस का भी चरित्र रहा है। मायावती ने कहा केंद्र मे सरकार बनाने का मौका मिलता है तो छह हजार देने के बजाय अति गरीब परिवार को सरकारी व गैरसरकारी संस्थान मे स्थायी रोजगार देगी।
मायावती ने कैसरगंज प्रत्याशी चंद्रदेव राम यादव व गोंडा सीट के प्रत्याशी विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह के लिए भी वोट मांगा। जनसभा मे विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह, सपा के पूर्व मंत्री योगेश प्रताप सिंह, पूर्व विधायक बैजनाथ दूबे, पयागपुर के पूर्व विधायक मुकेश श्रीवास्तव, कैसरगंज के पूर्व विधायक रामतेज यादव, बसपा के पूर्व विधायक रमेश गौतम, मसूद आलम खां, निसार अहमद, शमीम अच्छन, सूफियान खां, फहीम अहमद, तिलकराम गौतम, राजिक उस्मानी समेत अन्य मौजूद रहे।

From around the web