BJP सांसद बोले- मुस्लिम वोटों के एक साथ आ जाने से सीट बचाना मुश्किल

 
BJP सांसद बोले- मुस्लिम वोटों के एक साथ आ जाने से सीट बचाना मुश्किलमुरादाबाद सीट से भाजपा प्रत्याशी कुंवर सर्वेश कुमार सिंह ने चुनावों से पहले ही करीब करीब अपनी हार मान ली है। भाजपा प्रत्याशी का कहना है कि मुस्लिम वोटों के एक साथ आ जाने के कारण इस बार उनके लिए सीट बचाना मुश्किल है। बता दें कि भाजपा ने साल 2014 के लोकसभा चुनावों में मोदी लहर पर सवार होकर मुरादाबाद सीट से जीत हासिल की थी। हालांकि इस बार स्थिति उलट दिखाई दे रही है।

भाजपा ने मुरादाबाद लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद कुंवर सर्वेश कुमार को ही एक बार फिर अपना उम्मीदवार बनाया है। मुरादाबाद में तीसरे चरण के तहत 23 अप्रैल को मतदान होगा। जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार भाजपा उम्मीदवार ने पीटीआई के साथ फोन पर बातचीत के दौरान बताया कि वह मुरादाबाद से दोबारा सांसद निर्वाचित होने को लेकर आश्वस्त नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि चुनाव इस बार मुश्किल होगा। मुस्लिम वोट नहीं बंट पा रहे हैं। कुंवर सर्वेश कुमार ने ये भी बताया कि इस बार चुनाव यहां कांग्रेस बनाम भाजपा है। बता दें कि कांग्रेस ने मुरादाबाद से इमरान प्रतापगढ़ी को अपना उम्मीदवार बनाया है। वहीं सपा-बसपा-रालोद गठबंधन ने एसटी हसन को मैदान में उतारा है। कांग्रेस और गठबंधन के प्रत्याशी मुस्लिम हैं, ऐसे में मुस्लिमों के वोट बंटने के कयास लगाए जा रहे थे।

लेकिन अब बताया जा रहा है कि मुरादाबाद के मुस्लिम मतदाताओं ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि वह किसका समर्थन करेंगे, लेकिन मिल रही जानकारी से यह बात निकलकर सामने आयी है कि मुरादाबाद के मुस्लिम वोटर, वोट बंटने देने के मूड में बिल्कुल नहीं है और जहां भी वोट देंगे, वहां एकमुश्त वोट देने पर विचार कर रहे हैं, ताकि उनका समर्थन निर्णायक साबित हो सके।

मुरादाबाद में मुस्लिमों के अलावा जाटव भी 9 प्रतिशत के करीब हैं और पारंपरिक तौर पर बसपा के वोटर माने जाते हैं।

From around the web