साले की शादी में आरक्षक ने की हर्ष फायरिंग, गोली लगने से पत्नी की मौत

 
साले की शादी में आरक्षक ने की हर्ष फायरिंग, गोली लगने से पत्नी की मौतझाबुआ। साले के शादी समारोह में सोमवार को नाच रहे पुलिस आरक्षक जीजा ने लाइसेंसी बंदूक से हर्ष फायर कर दिया। इस दौरान गोली उसकी पत्नी को जा लगी और अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया।आरक्षक धार में पदस्थ है, उसके खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। अभी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

गोपालपुरा के शिवा पिता बहादुर सिंगाड़ की शादी धार जिले के चाकलिया गांव में हुई है। नई दुनिया की रिपोर्ट के अनुसार सोमवार सुबह गोपालपुरा से बरात धार जिले के लिए रवाना होने वाली थी। दूल्हे का जीजा और धार डीआरपी लाइन में पदस्थ आरक्षक अपसिंह उर्फ अजयसिंह गलिया निनामा (35) रौब दिखाने के लिए अपनी लाइसेंसी बंदूक लेकर आया था। दूल्हे के परिजन नाच रहे थे, तभी अजयसिंह ने 12 बोर बंदूक से फायर किया।

बाद में वह कंघे पर बंदूक लेकर नाचने लगा। इसी बीच उसने बंदूक सीधी कर दूसरी बार फायर कर दिया, गोली पीछे पीछे नाच रही उसकी पत्नी रजनी निनामा (32) के कंधे पर जा लगी। वह नीचे गिर पड़ी और तेजी से खून बहने लगा। नाचना छोड़ सभी रजनी को लेकर सरदारपुर के अस्पताल भागे। वहां डॉक्टरों ने धार ले जाने को कह दिया। धार ले जाते समय रजनी ने रास्ते में दम तोड़ दिया।

इधर, शादी की खुशियां मातम में बदल गई। दूल्हे ने परिवार के दो-तीन लोगों के साथ जाकर वैवाहिक रस्मे पूरी कीं। उल्लेखनीय है कि अजय निनामा निवासी टोडी सेमलिया पहले सेना में था। तीन वर्ष पूर्व मप्र पुलिस में उसका चयन हुआ। वह साले की शादी में रौब दिखाने के इरादे से अपनी लाइसेंसी बंदूक लेकर आया था। 

पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने बताया कि आरक्षक निनामा के खिलाफ धारा 302 के तहत हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। आचार संहिता लागू होने के बावजूद उसने अपना हथियार जमा नहीं करवाया और जिले में आकर बंदूक का उपयोग किया। इसे लेकर भी उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जा रहा है।
-सांकेतिक तस्वीर 

From around the web