दलित नेता अजय पासी का BJP की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा!

 
दलित नेता अजय पासी का BJP की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा!
सुल्तानपुर।  तहसील क्षेत्र के वीहि निंदूरा निवासी भारतीय जनता पार्टी के तेज तर्रार दलित नेता क्षेत्र में दलितों पर मजबूत पकड़ रखनेवाले डाक्टर अजय कुमार पासी ने आज भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.इन्होंने ने अभी हाल के लोकसभा चुनावों सांसद सदस्य मेनका गांधी एंव भाजपा को जीत दिलाने के काफी मेहनत लगन से प्रचार प्रसार किया था।
बीजेपी की नीतियों से आहत होकर पार्टी से इस्तीफा दिया। उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति के छात्रों को निशुल्क प्रवेश परीक्षा एवं शुल्क प्रतिपूर्ति की व्यवस्था को समाप्त करना। गाय के नाम पर फर्जी अल्पसंख्यकों की हत्या मॉब लिंचिंग, दलितों पिछड़ों मुस्लिमों का शोषण, फर्जी एनकाउंटर में दलित और यादवों को मारना। खुद के घर में सांसद महोदया मेनका गांधी के कार्यक्रम का विरोध .बीजेपी कार्यकर्ता के द्वारा भ्रष्टाचार, बिगड़ी कानून व्यवस्था, किसान उत्पीडऩ, बेरोजगारी, आर्थिक मंदी, बलात्कार गैंगरेप, नोटबंदी, आरक्षण विरोधी मानसिकता तथा शिवपुरी जिले के भाव खेड़ी में दो दलित बच्चों की पीटकर हत्या.कौशांबी में पासी समाज की बेटी से गैंगरेप, गोरखपुर ऑक्सीजन की कमी से बच्चों का मरना.उन्नाव विधायक बीजे पी के द्वारा रेप कांड, चिन्मयानंद रेप कांड पीडि़ता को जेल।
मेरठ मे 21 साल के मुकुल कुमार को 15 किलोमीटर घसीट कर मार डालना। जिससे उसके पैर उखड़ गए।
बांदा में 2 साल की बेटी से रेप, भगवान की नगरी अयोध्या में दलित शिक्षामित्र के लिए हेड मास्टर द्वारा गंगाजल लेकर आना.बलिया जिले के प्राथमिक विद्यालय के मिड डे मील में दलितों के साथ भेदभाव.सुरेंद्र सिंह हत्या कांड मे अमेठी सांसद महोदया स्मृति ईरानी का आकर कांधा देना। वही दलित रामअवतार पासी की पुलिस कस्टडी में हत्या हुई सांसद महोदय का न आना।
इन घटनाओं से आहत होकर मैं डॉक्टर अजय कुमार पासी बीजेपी की सदस्यता पद से इस्तीफा देता हूं। अभी किसी पार्टी को जवाइन नहीं कर रहा हू। हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तारीफ़ की।

From around the web