नोटबंदी और जीएसटी ने लाखों लोगों की नौकरी छिन ली : भोलाराम साहू

 
नोटबंदी और जीएसटी ने लाखों लोगों की नौकरी छिन ली : भोलाराम साहू
राजनांदगांव। कांग्रेस कें लोकसभा प्रत्याशी भोलाराम साहू आज मतदान के अंतिम समय तक राजनांदगांव शहर की एवं ग्रामीण क्षेत्र की जनता से रूबरू होकर वोट एवं समर्थन मांगा। वहीं शहर में जैन समाज द्वारा आयोजित शोभायात्रा में शामिल होकर जैन धर्म गुरू भगवान महावीर स्वामी जी से आशीर्वाद मांगा। 

कांग्रेस के प्रवक्त इकरामुद्दीन सोलंकी ने बताया कि कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी भोलाराम साहू ने इन आयोजित कार्यक्रम के साथ साथ नगर के विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं अन्य संगठनों से रूबरू होकर वोट एवं समर्थन मांगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि छग में विगत 15 वर्षों से भाजपा का शासनकाल अपने देखा और हमने देखा हमारे राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र में उनके गृह नगर में पूर्व मुख्यमंत्री का नेतृत्व विगत 15 वर्षों से रहा, उसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री के सुपुत्र अभिषेक सिंह बीते पांच वर्षों में यहां का नेतृत्व किया। केंद्र और प्रदेश में सरकार के बावजूद विकास के नाम पर सन्नाटा पसरा रहा। 

भाजपा के सारे लोग नेता से ठेकेदार बनकर भ्रष्टाचार में लिप्त रहे। इसी तरह 15 वर्षों के शासनकाल में विकास के नाम पर लूट खसोट होती रही। उद्योग के नाम पर पूर्व मुख्यमंत्री के कार्यकाल में नगर की जीवन दायिनी बीएनसी मिल बंद कर दी गई, जिसमें हजारों लोगों का रोजी रोटी चलती थी। झूठ, फरेब की राजनीति कर लोगों को बड़े बड़े आश्वसान दिये गये, जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था कि भिलाई स्टील प्लांट से भी बड़ा उद्योग राजनांदगांव में लगेगा, मेट्रो ट्रेन चलेगी और न जाने कैसे कैसे वायदे राजनांदगांव की जनता के साथ किये गये। राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र विकास की राह देखते देखते थक गया। पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह की पार्टी चुनाव हार गयी और सबसे बड़ा हास्यापद स्थिति सांसद अभिषेक सिंह की रही, जिनकी पार्टी ने उन पर भरोसा नहीं जताया और उनकी टिकट काट दी गई। 

तरह तरह खेल 15 वर्षोंं में खेले गये। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 2500 रूपये प्रति क्विंटल धान खरीदी की। 35 किलो चावल मध्यम वर्गीय परिवार को दिया जा रहा है। अल्पकालीन कृषि ऋण माफ किया गया। सिंचाई कर माफ किया गया। पांच हॉर्स पॉवर के पंपों को मुफ्त बिजली दी गई। बिजली बिल हाफ किया गया। बस्तर के किसानों की जमीन वापस की गयी। 

झीरम कांड की जांच फिर से शुरू की गई। छोटे भूखंडों की खरीदी बिक्री पर प्रतिबंध को हटाया गया। चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कार्यवाही की गयी। पत्रकार सुरक्षा कानून लाया गया। फर्जी मामलों में जेलों में लोगों के परीक्षण के लिए कमेटी बनायी गयी। तेंदूपत्ता के दर में 60 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की गयी। स्कूल और कालेजों में नये शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की गयी। वन अधिकार कानून का पालन किया गया। संविदा नहीं नियमित भर्ती की शुरूआत की गयी। जिला खनिज फाऊंडेशन बनाय गया। 

दिव्यांगों को सम्मान का कार्यक्रम शुरू किया गया। वहीं दूसरी ओर पांच साल तक केंद्र में बैठी मोदी ने कहते कहते पांच साल बीता दिये कि 15-15 लाख रूपये दिये जायेंगे। नोटबंदी के नाम पर जनता को हलाकान किया गया। फसल की कीमत डेढ़ गुना की जायेगी, लेकिन किसानेां को कुछ नहीं मिला। देश का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला लड़ाकू विमान खरीदी में घोटाला किया गया। नीरम मोदी, ललित मोदी, नीरव चौकसी और विजय माल्या को विदेश भगा दिया गया। 

जीएसटी ने कारोबारियों को बर्बाद कर दिया गया। हर वर्ष दो करोड़ बेरोजगारों को नौकरी देने का वायदा किया गया, लेकिन नौकरी तो नहीं मिली पर नोटबंदी और जीएसटी ने लाखों लोगों की नौकरी जरूर झिन ली गई। इनके शासन काल में गरीबी का ग्राफ बढ़ता ही चला गया। गरीबों को मुफ्त में गैस कनेक्शन के नाम पर धोखा दिया गया। कृषि, ग्रामीण विकास एवं किसानों के साथ ठगी की गई। 

स्वच्छता मिशन यानि शौचालय योजना इसमें करोड़ों रूपयों का भ्रष्टाचार किया गया। प्रधानमंत्री फलस बीमा योजना यानि लुट का पिछला दरवाजा रहा। सिर्फ बीमा कंपनियों को करोड़ों-अरबों का फायदा होता चला गया। नित नये जुमलेबाजी कर देश की जनता को धोखा दिया गया, जिसे जनता कभी माफ नहीं करेगी। अब वक्त आ गया है आज 18 अप्रैल को होने वाले इस चुनाव में पंचा छाप में मुहर लगाकर मुझे विजय बनाये और अपना आशीर्वाद दें।

इस अवसर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेतागण, ब्लॉक अध्यक्षगण, शहर कांग्रेस, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई सहित सभी विंगों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

From around the web