सरकार के दबाव में काम कर रहा चुनाव आयोग : कांग्रेस

 
सरकार के दबाव में काम कर रहा चुनाव आयोग : कांग्रेसभोपाल। कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग मोदी सरकार के दबाव में काम कर रही है।

आयोग ने कांग्रेस के आधा दर्जन चुनावी विज्ञापन और वीडियो सिर्फ इसलिए रोक दिए, क्योंकि उनमें राफेल की फाइल, जुमला, अंधभक्त, स्मार्टसिटी, 56 इंच और मित्रोमेनिया जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है।

पत्रकारवार्ता में ओझा ने बताया कि विज्ञापनों में ये सभी शब्द व्यंग्य के रूप में डाले गए हैं। एक विज्ञापन में राफेल की फाइल गुमने पर भी तंज कसा गया, आयोग ने इस पर भी आपत्ति ली है। उन्होंने आरोप लगाया कि आयोग केंद्र सरकार के दबाव में काम कर रही है।

साथ ही यह दावा किया कि आयोग की आपत्ति आधारहीन है, आयोग एक स्वतंत्र और संवैधानिक संस्था है उसे विज्ञापन जारी करने की अनुमति दे देना चाहिए। एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने इस मुद्दे पर आयोग में अपील कर दी है। यदि न्याय नहीं मिला तो इन विज्ञापनों को लेकर पार्टी जनता के सामने भी जाएगी।

उन्होंने यह भी बताया कि विधानसभा चुनाव में भी एक विज्ञापन पर रोक लगाई गई थी, जिसे बाद में जारी कर दिया गया था। उम्मीद है कि आयोग मौजूदा विज्ञापनों पर भी निर्णय लेगा। राफेल फाइल पर हुए सवाल को लेकर वह बोलीं कि यह बात सरकार सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर कह चुकी है तो उसमें अब क्या दिक्कत है।

महेश्वर घाट पर सलमान खान की फिल्म शूटिंग के दौरान शिवलिंग के ऊपर तखत बिछाने के सवाल को शोभा ओझा ने टाल दिया। वह बोलीं इस संबंध में सलमान से ही पूछें मैं उनकी प्रवक्ता नहीं हूं। उन्होंने मामले पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

From around the web