शर्मनाक: सीएम योगी के आगमन पर पत्रकारों को डीएम ने किया 'नजरबंद'

 
शर्मनाक: सीएम योगी के आगमन पर पत्रकारों को डीएम ने किया 'नजरबंद'
इफ्तखार अर्शी, मुरादाबाद। प्रेस की आजादी को उस वक्त कैद कर दिया गया जब मुख्यमंत्री की कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों को जिलाधिकारी ने इमरजेंसी वार्ड में बंद कर बाहर पुलिस का पेहरा बैठा दिया, हालांकि बाद में पत्रकारों ने घटना को लेकर विरोध जताया, लेकिन तब तक मुख्यमंत्री जा चुके थे।

मुरादाबाद सर्किट हाउस में रविवार को विकास कार्यों एवं योजनाओं की समीक्षा करने मुख्यमन्त्री योगी का आदित्यनाथ आए थे। इस दर्मियान जिला अस्पताल में मुख्यमंत्री के आकस्मिक निरीक्षण की सूचना पर दर्जनों पत्रकार मौके पर पहुंच गए। इस बीच जिलाधिकारी ने पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद कर बाहर से कुंजी लगा दी। पत्रकारों के अंदर से दरवाजा पीटने पर बाहर सिविल लाइन पुलिस को तैनात कर दिया। इस तरह  सीएम के निरीक्षण के दौरान  पत्रकार नजरबंद दिखे।

लोकतंत्र के चौथे पिलर का यह हश्र देखकर पत्रकार जहां खुद को शर्मिंदा महसूस करते नजर आए, वहीं जनपद से लेकर प्रदेश स्तर की समस्याओं पर मुख्यमंत्री से सवाल जवाब और अवाम की आवाज मुख्यमन्त्री तक पहुंचाने की हसरत दबी रह गई। पत्रकारों का कहना है कि जनपद की अव्यवस्थाओं की पोल खुलने की वजह से जिला प्रशासन ने पत्रकारों को बन्द कर दिया।

दूसरी तरफ डीएम का पक्ष है कि पत्रकारों को बंद नहीं किया गया बल्कि मुख्यमंत्री अस्पताल के जिस वार्ड का निरीक्षण कर रहे थे वहां पर पत्रकारों के रूप में ज्यादा लोगों के पहुंचने से मरीजों को दिक्कत हो सकती थी लिहाजा उनको रोक दिया गया था वरना बाकी पूरे प्रोग्राम में पत्रकार मुख्यमंत्री के साथ कवरेज करते रहे। उनको कोई दिक्कत नहीं आई। 

From around the web