लाडली को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, 22 साल की उम्र में IPS बनकर पूरा किया सपना

 
लाडली को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, 22 साल की उम्र में IPS बनकर पूरा किया सपना
राजस्थान पुलिस में मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन डीसीपी पद पर तैनात IPS पूजा अवाना के फेसबुक पोस्ट लोगों के बीच वायरल रहे हैं। युवा  IPS पूजा अवाना मूलरूप से नोएडा के अट्टा गांव की रहने वाली हैं और राजस्थान कैडर में उनकी पहली पोस्टिंग पुष्कर में हुई थी।
लाडली को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, 22 साल की उम्र में IPS बनकर पूरा किया सपना

इसके बाद विभिन्न पदों पर रहते हुए इन्होंने जयपुर ट्रैफिक उपायुक्त पर भी सेवाएं दे चुकी हैं। दरअसल उनके लिखे पोस्ट और पुलिस सेवा से यूथ इंसपायर होकर शेयर, लाइक और कमेंट कर रहे हैं। मात्र 22 वर्ष की उम्र में दूसरे प्रयास में सिविल परीक्षा में 316 रैंक पाने वाली पूजा हमेशा से पढ़ाई में अव्वल रहीं। मात्र 22 वर्ष की उम्र में दूसरे प्रयास में सिविल परीक्षा में 316 रैंक पाने वाली पूजा हमेशा से पढ़ाई में अव्वल रहीं।

पिता विजय अवाना अपनी लाडली को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे। पिता के सपने को पूरा करने के लिए पूजा ने वर्ष 2010 में पहला प्रयास किया। हालांकि इसमें वे सफल नहीं हो पाईं लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और दूसरे प्रयास में 316 रैंक प्राप्त कर आईपीएस बनने में सफल रहीं।
लाडली को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, 22 साल की उम्र में IPS बनकर पूरा किया सपना

पुलिस की वर्दी में उनकी रौबदार छवि के साथ फेसबुक पर उनके महिला शिक्षा को प्रोत्साहित करने वाले पोस्ट और कुछ निजी तस्वीरें भी शेयर की जा रही हैं। पुलिस की वर्दी में उनकी रौबदार छवि के साथ फेसबुक पर उनके महिला शिक्षा को प्रोत्साहित करने वाले पोस्ट और कुछ निजी तस्वीरें भी शेयर की जा रही हैं।

डीसीपी पूजा गुर्जर समाज से आती हैं और उनका पुलिस सर्विसेज में सलेक्शन और सेवाएं राजस्थान में गुर्जर समाज के युवाओं में खासा प्रोत्साहित करने वाला है।

From around the web