GF ने रुकवा दी BF की बारात, मजबूरन छोटा भाई बना दूल्हा...

 
GF ने रुकवा दी BF की बारात, मजबूरन छोटा भाई बना दूल्हा...
मुरादाबाद। प्रेमी का दूसरी युवती के साथ विवाह गवारा नहीं किया, लिहाजा शादी के दिन पुलिस को साथ लेकर घर जा धमकी औरा बारात रुकवा दी। कशमकश में फंसे परिजन इज्जत की खातिर छोटे भाई को दूल्हा बनाकर बारात ले गए तो दूसरी तरफ बड़े भाई का निकाह आगामी एक अप्रैल को करने पर रजामंदी बन गई ।

 शरीफ नगर निवासी फारुख अहमद की बेटी कमर जहां का डिलारी थाना क्षेत्र के ग्राम गक्खरपुर निवासी अब्दुल मन्नान के पुत्र शाने आलम उर्फ शानू से प्रेम संबंध थे। दोनों के बीच करीब छह वर्ष से बातचीत का सिलसिला चल रहा था। इस बीच परिजनों को भनक लगी तो अब्दुल मन्नान की तरफ से रिश्ता भेजा गया, लेकिन फारुक ने आर्थिक स्थित बेहतर नहीं होने का हवाला देकर सालभर की मोहलत मांगी। इस बीच अब्दुल मन्नान ने बेटे का रिश्ता पास के ग्राम विजयरामपुर में साले रईस की बेटी से तय कर दिया। सोमवार को बारात जानी थी। घर पर मेहमानों के बीच चोटी सहरे की तैयारी चल रही थी।

इस बीच प्रेमी की शादी की भनक लगते ही कमर जहां डिलारी थाने पहंुच गई। उसने आला अफसरों से भी शादी की गुहार लगाई। पुलिस हरकत में आई और गक्खरपुर पहंुची तो शादी समारोह में खलबली मच गई। एक तरफ परिवार के सदस्य कमर जहां से मानमनौवल करने लगे तो दूसरी तरफ विजयरामपुर में दुल्हन के घर पर संपर्क साधा।

विजयरामपुर में भी बारात के स्वागत की तैयारी चल रही थी, लिहाजा परिवार के सदस्यों ने शाने आलम का निकाह कमर जहां से करने पर रजामंदी और छोटे बेटे शाहरुख की बारात लेकर आने को दूल्हन पक्ष से रजामंदी मांगी। दोनों पक्षों के रजमंद होने पर कमरजहां और शाने आलम समेत मौअज्जिज लोगों के हस्ताक्षर के बाद समझौतानामा थाने में जमा किया, जिसमें एक जुलाई को दोनों का निकाह करना तय पाया।

इसके बाद करीब दोपहर एक बजे की बजाए पांच बजे छोटे भाई शाहरुख की बारात विजयरामपुर पहुंची। इस तरह बड़े भाई की जगह छोटे भाई के साथ रईस अहमद के परिजनों ने बेटी की विदाई की। डिलारी थानाध्यक्ष के अनुसार दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया। युवती और युवक ने निकाह करने पर रजामंदी दे दी है।

From around the web