स्वास्थ्य मंत्रालय का फैसला- अब सरकारी बैठकों में चाय-बिस्किट की जगह दिया जाएगा लाई-चना

 
स्वास्थ्य मंत्रालय का फैसला- अब सरकारी बैठकों में चाय-बिस्किट की जगह दिया जाएगा लाई-चना
नई दिल्ली। सरकारी बैठकों में अब अधिकारी चाय और बिस्किट की जगह लाई-चना, अखरोट और खजूर खाएंगे. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने अपने यहां होने वाली बैठकों में चाय और बिस्किट से परहेज करने का फैसला लिया है. मंत्रालय ने अपने सभी विभागों को एक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि बैठकों के दौरान कुकीज, बिस्किट और अन्य फास्ट फूड न परोसें. सरकारी कार्यालयों में स्नैक्स की जगह भुना हुआ चना, खजूर, बादाम और अखरोट जैसे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने वाले खाने के विकल्प तलाशने को कहा है.
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की पहल पर मंत्रालय ने इस संबंध में एक सर्कुलर जारी कर कहा है कि प्लास्टिक की बोतलों में पानी पीना भी नुकसानदेह है. निकट भविष्य में इसका प्रयोग भी बंद किया जाएगा. बताया गया है कि प्लास्टिक के कचरे से कितना प्रदूषण होता है इसके बारे में सभी जानते हैं. ऐसे में इससे जितनी जल्दी छुटकारा पा लिया जाए वह बेहतर होगा.
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया है कि फिलहाल यह आदेश स्वास्थ्य मंत्रालय के विभागों और संस्थानों में लागू होगा. यह लोगों के बेहतर स्वास्थ्य को लेकर एक कदम है. इसे डॉक्टरों की पहल पर उठाया गया है, इसलिए अन्य मंत्रालयों एवं विभागों से भी लागू करने का अनुरोध किया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्रालय के नियंत्रण में आने वाले एम्स में भी होने वाली मीटिंग में बिस्किट का सेवन नहीं किया जाएगा. बहुत जल्द देशभर के अन्य राज्यों के अस्पतालों में भी बिस्किट की बिक्री पर रोक लगाने को कहा जाएगा.

From around the web