इधर मौलवी ने पढ़ाया निकाह तो उधर पुरोहित ने कराया विवाह!

 
इधर मौलवी ने पढ़ाया निकाह तो उधर पुरोहित ने कराया विवाह!
मुरादाबाद(इफ्तखार)। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में एक तरफ मौलाना ने कुरान की आयतों को पढ़कर निकाह की रस्म अदा की, तो दूसरी तरफ पुरोहित ने मंत्रोच्चारण के साथ हिंदू रीति-रिवाज से विवाह संपन्न कराया। इस तरह 127 जोड़ें विवाह के बंधन में बंधे हैं। इनको दान दहेज के साथ सामूहिक भोज के बाद विदा किया गया।

ठाकुरद्वारा के ग्राम रतूपुरा स्थित सुखदाई स्मारक डिग्री कॉलेज परिसर में सोमवार को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। इसमें ठाकुरद्वारा ब्लॉक क्षेत्र में 44 जोड़े हिंदू और 29 जोड़े मुस्लिम पंजीकृत किए गए थे। इसी तरह डिलारी ब्लाक क्षेत्र में 60 जोड़े हिंदू और 15 जोड़े मुस्लिम पंजीकृत किए गए थे। इनमे सामूहिक विवाह स्थल पर पहुंचे ठाकुरद्वारा ब्लाक से 37 हिंदू और 22 मुस्लिम, डिलारी ब्लाक से 52 हिंदू और 12 मुस्लिम के साथ ही ढकिया नगर पंचायत से भी 4 जोड़ों का सामूहिक विवाह किया गया। इसमें एक तरफ अग्नि कुंड स्थापित कर मंत्रोच्चारण के बीच युवक-युवती वरमाला पहनाकर विवाह बंधन में बंधे तो दूसरी तरफ कुरान की आयतों के साथ निकाह की रस्म अदा की गई। सामूहिक भोज के बाद समारोह स्थल से नवविवाहित जोड़ों को विदा किया गया।

पूर्व सांसद कुमार सर्वेश सिंह, बढ़ापुर विधायक सुशांत सिंह ने वर वधू को आशीर्वाद देने के साथ ही प्रमाण पत्र भी सौंपा। इस अवसर पर एडीएम ई लक्ष्मी शंकर सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनील कुमार, तहसीलदार जमन सिंह, खंड विकास अधिकारी अभय कुमार, आरपी सिंह, एडीओ पंचायत शिव प्रकाश सक्सेना, अजय पांडेय, सीपी सिंह, जयलाल, अमर सिंह आदि उपस्थित थे।

From around the web