HIV संक्रमित खून चढ़ाया, अब देना होगा 20 लाख मुआवजा

 
HIV संक्रमित खून चढ़ाया, अब देना होगा 20 लाख मुआवजा
करीब 20 साल पहले ब्लड ट्रांसफ्यूजन के दौरान HIV पॉजिटिव ब्लड चढ़ाए जाने से AIDS का शिकार हुए युवक को अब एक कोर्ट ने 20 लाख रुपये का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने का निर्देश दिया है।

ये रकम लापरवाही के लिए जिम्मेदार डॉक्टरों को चुकानी होगी। पीड़ित को चेन्नै के एक सरकारी अस्पताल में गलत खून चढ़ाया गया था।

चेन्नै के सरकारी चाइल्ड हेल्थ ऐंड हॉस्पिटल फॉर चिल्ड्रन में डॉक्टरों ने पीड़ित को HIV पॉजिटिव खून चढ़ाया था।

एनबीटी की रिपोर्ट के अनुसार फैसला देते हुए अतिरिक्त सिटी सिविल जज वी दनमोझे ने कहा, 'बच्चों के सरकारी अस्पताल के जिन डॉक्टरों ने पीड़ित का इलाज किया था वह मेडिकल लापरवाही के लिए जिम्मेदार हैं और उन्हें केस दर्ज किए जाने से लेकर फैसला आने तक के समय पर 6 फीसदी ब्याज के साथ 20 लाख रुपये का मुआवजा देना होगा।'

कोर्ट ने यह भी कहा है कि सरकार इस केस को स्पेशल मानते हुए पीड़ित को उसकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरी दे। उन्होंने अस्पताल को निर्देश दिया है कि केस पर खर्च हुए 1.5 लाख रुपये पीड़ित को चुकाए जाएं। बता दें कि घटना दिसबंर 1998 की है जब पीड़ित मात्र 6 महीने का था। उसे डायरिया होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

From around the web