PM के हेलीकॉप्टर की जांच करने वाले IAS ऑफिसर मोहम्मद मोहसिन को मिली राहत

 
PM के हेलीकॉप्टर की जांच करने वाले IAS ऑफिसर मोहम्मद मोहसिन को मिली राहत
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की जांच करने वाले IAS मोहम्मद मोहसिन के निलंबन पर केंद्रीय प्रशासनिक ट्रिब्यूनल ने रोक लगा दी है। मोहम्मद मोहिसन ने ओडिशा की संबलपुर संसदीय क्षेत्र में पिछले हफ्ते हुई प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की चेकिंग करी थी जिसके कारण चुनाव आयोग की तरफ से उनको निलंबित किया गया था।

लेकिन मोहम्मद मोहसिन के समर्थन में विपक्ष के एकजुट होने और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर उनके समर्थन में आवाज़ उठाने और हमदर्दी के चलते मोहम्मद मोहसिन को राहत मिली है,चुनाव आयोग ने आईएएस मोहसिन के निलंबन आदेश में कहा था कि उन्होंने जांच प्रक्रिया में स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के नियमों का पालन नहीं किया। आईएएस मोहसिन वहां सामान्य पर्यवेक्षक के तौर पर नियुक्त थे।

विपक्षी दलों का कहना था कि ऐसा कोई नियम नहीं है, जो चुनाव के दौरान ऐसी किसी जांच के नहीं होने की बात कहता हो। आईएएस मोहसिन, कर्नाटक कैडर के 1996 आईएएस बैच के अधिकारी हैं। उन पर ड्यूटी के दौरान अवहेलना और लापरवाही का आरोप है। रिपोर्ट के मुताबिक आईएएस के द्वारा पीएम के हेलीकॉप्टर की जांच करने के कारण प्रधानमंत्री 15 मिनट लेट हो गए थे।

भारत निर्वाचन आयोग सभी संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में सामान्य पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करता है ताकि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव हो सके। पारदर्शिता और स्थानीय प्रशासन से दूरी सुनिश्चित करने के लिए ये हमेशा राज्य के बाहर के अधिकारी होते हैं।

From around the web