IAS बनेगी गांव की बेटी गरिमा दहिया, गांव में जश्न का माहौल

 
IAS बनेगी गांव की बेटी गरिमा दहिया, गांव में जश्न का माहौलयूपीएससी की परीक्षा में 394 वां स्थान प्राप्त कर अपने पैतृक गांव झज्जर के सिसाना पहुंची गरिमा दहिया का ग्रामीणों और विधायक जयवीर वाल्मीकि ने फूल और नोटों की मालाएं पहनाकर स्वागत किया।

गांव की बेटी अब IAS बनेगी इस बात को लेकर गांव वाले जश्न मनाते हुए नजर आ रहे थे। गरिमा दहिया अपने दो भाइयों में मंझली है। बड़ा भाई नीतिन दिल्ली पुलिस में सिपाही है जबकि छोटा भाई स्नातक की शिक्षा प्राप्त कर रहा है।

गरिमा दहिया के पिता दिल्ली पुलिस में एएसआई हैं। गरिमा का परिवार पिछले कुछ समय दिल्ली रह रहा है। गरिमा ने 8वीं तक की पढ़ाई गांव के नारायण स्कूल से की, 10वीं कल्पना चावला स्कूल खरखौदा, 12वी झज्जर के खानपुर कलां व बीएससी दिल्ली मैत्री कॉलेज से पास की है।


गरिमा का कहना है कि लड़कियों को उच्च शिक्षा प्राप्त कर आगे बढ़ाना चाहिए। उन्हें जब भी मौका मिलेगा व महिलाओं एवं गरीब लड़कियों के उत्थान के लिए निरंतर प्रयास करेंगी। इस मौके पर सुभाष उर्फ बल्लू दहिया, चांद पहलवान सहित सैकड़ो महिलाओं ने गरिमा का स्वागत किया।

From around the web