इंटर कास्ट मैरिज बनी मॉब लिंचिंग की वजह...

 
इंटर कास्ट मैरिज बनी मॉब लिंचिंग की वजह...
तमिलनाडु के थूथूकुडी जिले में एक जोड़े को इंटरकास्ट मैरिज की सजा भुगतनी पड़ी। सोलाय़राजन और उसकी गर्भवती पत्नी जोथी की स्थानीय लोगों ने ह’त्या कर दी। हत्या के समय महिला तीन महीने की गर्भवती थी। उनका बच्चा इस दुनिया में आने से पहले ही चला गया।

दोनों एक साल्ट पैन में काम करते थे। हत्या के आ’रोप में जोथी के पिता को गि’रफ्तार कर लिया गया है।पुलिस के मुताबिक सोलायराजन पारयार समुदाय से था और उसे एक पल्लर समुदाय की लड़की जोथी से प्यार हो गया था। दोनों साल्ट पैन में काम करते थे। उन दोनों ने शादी करने का फैसला किया। जोथी के माता- पिचा ने इस शादी का वि’रोध किया तो उसने घर छोड़ दिया और अप्रैल में अपने प्रेमी से शादी कर ली। सोलायराजन के घरवालों को इस शादी से कोई आ’प’त्ति नहीं थी।

यह घटना तब सामने आई जब गुरुवार सुबह दंपति को नहीं देखा गया और उनके घर का दरवाजा बंद रहा। सोलायराजन की मां मुथुमारी ने पड़ोसियों की मदद से जबरन दरवाजा खोला। मुथुमरी की बहन करपगम ने कहा, “जब हमने दरवाजा खोला तो हम दोनों को खू’न से लथपथ देखकर चौंक गए।”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस का मानना ​​है कि डबल म’र्डर को बुधवार तड़के लोगों के एक समूह ने अंजाम दिया और मौके से फ’रार हो गए। श’वों को श’व परीक्षण के लिए थुथुकुड़ी सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है।

करपगम ने यह भी आरोप लगाया है कि जोथी के पिता ने सोलायराजन को धम’की दी थी। “उन्होंने शादी के बाद भी उन्हें धम’की देना बंद नहीं किया। हालांकि हम दलित हैं, वे शादी के विरोध में थे क्योंकि हम एक अलग उप संप्रदाय के थे। जोठी तीन महीने की गर्भवती थी और जिस तरह से उनकी बे’रहमी से ह’त्या की गई है, वह भ’यान’क है।”

From around the web