सुबह ऑफिस जाने से पहले स्कूल जाकर बच्चों को कोचिंग देती हैं ये IPS ऑफिसर

 
सुबह ऑफिस जाने से पहले स्कूल जाकर बच्चों को कोचिंग देती हैं ये IPS ऑफिसर
हिमाचल की IPS महिला अधिकारी अपनी ड्यूटी के फर्ज के साथ-साथ युवाओं के भविष्य संवारने के लिए एक अनूठी मुहिम पेश कर रही है। दरअसल महिला अधिकारी अब युवाओं को भी देश सेवा के लिए तैयार कर रही। वह उन्हें UPSC, HPPSC की मुफ्त कोचिंग दे रही है।

बता दें कि यह आईपीएस महिला अधिकारी शालिनी अग्निहोत्री है, जो रोजाना सुबह के समय करीब 66 युवक-युवतियों को देश सेवा के लिए तैयार कर रही है।

खास बात यह है कि शालिनी अग्निहोत्री ने 1 साल पहले भी न’शे को खत्म करने के लिए से सहभागिता आपकी और हमारी कार्यक्रम का आयोजन किया था और अब इसी कार्यक्रम के माध्यम से युवाओं को भी तराशना शुरू कर दिया है। ड्यूटी जाने से पहले वह 8 बजे ढालपुर स्कूल के हॉल में जाती हैं।
सुबह ऑफिस जाने से पहले स्कूल जाकर बच्चों को कोचिंग देती हैं ये IPS ऑफिसर

अन्य जगहों से यहां किराए के कमरों में रहकर कोचिंग ले रहे हैं। अग्निहोत्री ने बताया कि कई बार होनहार बच्चे कोचिंग के अभाव में यूपीएससी व एचपी पीएससी सहित अन्य परीक्षाओं में पिछड़ जाते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सहभागिता मिशन के तहत इन कोचिंग कक्षाओं को शुरू किया गया है।


कठिन परिस्थितयों से पार पाते हुए शालिनी अग्निहोत्री ने सफलता हासिल की है। ये आईपीएस अधिकारी आज भी बस से सफर करने में सहज महसूस करती हैं। आईपीएस के पिता एचआरटीसी में बतौर कंडक्टर तैनात थे। ऊना के अंब के ठठल गांव की शालिनी ने 2013 में जब आईपीएस की परीक्षा पास की तो युवाओं के लिए एक प्रेरणा स्रोत बनकर उभरी। अब युवाओं के भविष्य संवारने के लिए उनकी इस मुहिम की सभी खूब प्रशंसा कर रहे हैं।

From around the web