अनंतनाग के बडे आतंकी हमले में ग़ाज़ीपुर का लाल मनोज शहीद

 
अनंतनाग के बडे आतंकी हमले में ग़ाज़ीपुर का लाल मनोज शहीद
राकेश पाण्डेय
जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में बुधवार को हुए आतंकी हमले में शहीद होने वाले 5 जवानों में गाजीपुर का लाल भी शामिल है।

सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के जैतपुरा के रहने वाले गोरख कुशवाहा के पुत्र महेश कुशवाहा भी इस हमले में शहीद हो गये।वह सीआरपीएफ कांस्टेबल के रूप में अनंतनाग में तैनात थे। 2010 में सीआरपीएफ ज्वॉइन करने वाले महेश कुशवाहा का विवाह निर्मला से हुआ था और इनके एक पुत्र तथा एक पुत्री है। वहीं इनके पिता गोरखनाथ कुशवाहा हार्ट अटैक के चलते अस्पताल में भर्ती है।

मालूम हो कि अमरनाथ यात्रा शुरू हाेने से पहले बुधवार शाम जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में बड़ा अातंकी हमला हुअा। शहर की एक बेहद व्यस्त सड़क पर दिनदहाड़े हुए हमले में सीआरपीएफ के पांच जवान शहीद हो गए। सीअारपीएफ के तीन अन्य जवान, जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक इंस्पेक्टर और एक अन्य महिला हमले में घायल हैं। सुरक्षा बलाें की कार्रवाई में एक विदेशी अातंकी भी मारा गया।

एक निष्क्रिय हाे चुके अातंकी गुट अल-उमर मुजाहिदीन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। हालांकि, अधिकारियाें का मानना है कि इस हमले के पीछे जैश-ए-माेहम्मद के आतंकियों का हाथ है। अनंतनाग में केपी राेड के नाम से मशहूर खानाबल, पहलगाम राेड पर CRPF की 116वीं बटालियन अाैर जम्मू-कश्मीर पुलिस की टीम पिकेट ड्यूटी पर तैनात थी।

बेहद व्यस्त रहने वाली इस सड़क पर माेटरसाइकिल से आए  दाे आतंकियों ने टीम पर आटोमेटिक हथियाराें से फायरिंग की और  ग्रेनेड फेंके। टीम ने आतंकियों का मुकाबला किया। मुठभेड़ में पांच जवान शहीद हाे गए।

From around the web