नाबालिग रहते रेप और हत्या करने वाले आरोपी को उम्र कैद

 
नाबालिग रहते रेप और हत्या करने वाले आरोपी को उम्र कैद
हैदराबाद की अदालत ने गुरुवार को एक बाल अपराधी (जुवैनाइल) को यौन अपराध और हत्या के मामले में दोहरी उम्रकैद की सजा सुनाई। पुराने हैदराबाद के बरकस इलाके में 28 जून, 2017 को हुई इस घटना में हैदराबाद कोर्ट ने देश में अपनी तरह का पहला फैसला दिया है।

प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल असॉल्ट (पॉक्सो) की धारा-5 और भारतीय दंड संहिता की धारा-302 के तहत 17 साल के इस बाल अपराधी को उम्रकैद की सजा सुनाई गई हैं। इसके अलावा उसे आइपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत अप्राकृतिक अपराध के लिए 10 साल का कठोर कारावास, अपहरण के मामले में 10 साल और सुबूत मिटाने के लिए 7 साल की सजा सुनाई गई है।

28 जून, 2017 के दिन आरोपित खेलने के बहाने पड़ोस में रहने वाले 10 साल के बच्चे को अपने साथ ले गया था। वह पीड़ित को सरकारी स्कूल की छत पर ले गया था, वहां उसने उसके साथ दुराचार किया। उसके बाद सिर पर लोहे के पाइप से वार करके हत्या कर दी थी। उसने आठ दिनों तक बच्चे के शव को छिपा कर रखा।

चंद्रयानगुट्टा पुलिस ने संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की तो इस दिल दहला देने वाली घटना का खुलासा हुआ। अदालत द्वारा उसे दोषी ठहराए जाने के बाद हैदराबाद पुलिस आयुक्त ने मामले के जांच अधिकारी को 20 हजार रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की।

From around the web