मॉब लिंचिग 1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सजा है: आजम

 
मॉब लिंचिग 1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सजा है: आजम
रामपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व रामपुर से सांसद आजम खान अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। एकबार फिर उन्होंने ऐसा बयान दिया है जिसे लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो रहा है। दरअसल, सपा सांसद ने मॉब लिंचिंग (उन्मादी भीड़) को लेकर ताजा बयान दिया है।

आजम खान ने मॉब लिंचिग की घटनाओं को लेकर कहा कि यह 1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सजा है। मुस्लिम जहां भी जाएंगे उन्हें यह सहना ही पड़ेगा। अब जो होगा, उसे सहना होगा। उन्होंने कहा हमारे पूर्वज पाकिस्तान क्यों नहीं गए? यह मौलाना आजाद, जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल और बापू से पूछें। इन्होंने मुसलमानों की सुरक्षा का वादा किया था। 

From around the web