सकारात्मक सामाजिक चर्चाओं से ही बहुजन समाज अपने पैरो पर खड़ा हो सकता है : लक्ष्य

 
सकारात्मक सामाजिक चर्चाओं से ही बहुजन समाज अपने पैरो पर खड़ा हो सकता है : लक्ष्यहरदोई।   लक्ष्य की महिला टीम ने लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या के नेतृत्व में जिला हरदोई के गांव सैदना खेड़ा का दौरा किया और बहुजन समाज के लोगो के साथ सामाजिक चर्चा की | सकरात्मक सामाजिक चर्चाओं से ही बहुजन समाज अपने पैरो पर खड़ा हो सकता है यह बात सामाजिक चर्चा के दौरान लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या ने कही |

बहुजन समाज को अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए गांव गांव घर घर में 365 दिन  सकरात्मक सामाजिक चर्चाए करनी होंगी | जिस समाज में सकरात्मक सामाजिक चर्चाओं का जोर होता है वह समाज मजबूती की उच्तम सीमा पर होता है और उसकी मजबूती की यह उच्चतम सीमा सकरात्मक सामाजिक चर्चाओं से ही बनी रहती है यह बात लक्ष्य कमांडरों ने अपने सम्बोधन में कही |

लक्ष्य कमांडरों ने कहा कि अब समय आ गया है कि हम लोग भी अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करे | उन्होंने कहा कि जिस समाज के लोग अपने अधिकारों के लिए संघर्षरत होते है उस समाज के लोगो के अधिकारों का हनन नहीं होता है| उन्होंने कहा कि हमें अपने महापुरुषों के संघर्ष को आदर्श मानकर उनके बताये मार्ग पर चलना होगा | उन्होने बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर के योगदान की भी विस्तार से चर्चा की |

उन्होंने वोट की कीमत को समझाते हुए कहा कि इसी के बेहतर इस्तमाल से समाज व् देश मजबूत होता है | उन्होंने  लोगो से अपील करते हुए कहा कि भारत की मजबूती के लिए हमें   वोट अवश्य देना चाहिए और ईमानदार व् संघर्षशील लोगो को ही चुनना चाहिए जो सभी नागरिको का व् देश का ईमानदरी के साथ ध्यान रख सके |

लक्ष्य के सलाहकार एम्. एल. आर्या ने संगठन के बारे में विस्तार से बताया उन्होंने कहा कि बहुजन समाज को जागरूक करने के लिए  लक्ष्य के कमांडर गांव गांव घर घर जाकर लोगो को सामाजिक तौर से जागरूक करने में दिनरात लगे है |  उन्होंने लोगो से अपील करते हुए कहा कि आओ मिलकर इस सामाजिक क्रांति को लक्ष्य तक पहुंचाए |

From around the web