सामाजिक चिंतन करने वाले लोग ही, समाज में बदलाव की पहल कर सकते है : लक्ष्य

 
सामाजिक चिंतन करने वाले लोग ही, समाज में बदलाव की पहल कर सकते है : लक्ष्य
सीतापुर।  लक्ष्य की महिला टीम द्वारा "लक्ष्य गांव गांव की ओर" अभियान के तहत एक भीम चर्चा का आयोजन सीतापुर की तहसील सिधौली के गांव मऊ अटरिया में किया गया |

समाज की दशा को महसूस करने वाले लोग ही, समाज में बदलाव की पहल कर सकते है अर्थात जो लोग समाज के दुःख दर्द को महसूस कर करते है वो ही लोग समाज में परिवर्तन की चाहत  रखते और जो लोग सामाजिक परिवर्तन की चाहत रखते है वो ही लोग सामाजिक बदलाव के लिए पहल करते है और सामाजिक बदलाव की पहल को मजबूत करने के लिए  समाज के लोगो  को एकजुट होना होगा | यह बात लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या व रश्मि गौतम ने अपनी सामाजिक चर्चा के दौरान कही |

लक्ष्य कमांडर संघमित्रा गौतम व बीना सम्राट  ने लोगो से कहा कि आप लोगो को भी समाज के दुःख दर्द में शामिल होना होगा तभी जाकर बहुजन समाज परिवर्तन की लहर देख पायेगा |  उन्होंने कहा कि इस सामाजिक जागरूकता के अभियान को कड़ी दर कड़ी जोड़ना होगा तभी जाकर हम लोग  एक मबजूत समाज की कल्पना कर सकते है|  उन्होंने लोगो से अपील करते हुए कहा कि आओ समाज की दशा को समझे और एक नई  दिशा  तय करे ताकि सम्पूर्ण बहुजन समाज में एक बदलाव हो सके | 

इस सामाजिक चर्चा में श्री परस राम भारती (ग्राम प्रधान), संगीता भारती,आशा भारती,नीतू भारती, शिवानी भारती,बुध्द ज्योति अम्बेडकर, सुनील भारती, रितिक कुमार व् राज नारायन ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम  के आयोजक परस राम भारती प्रधान ने सभी लक्ष्य कमांडरों का धन्यवाद किया और जल्द ही एक बड़ा कैडर कैम्प कराने की बात कही |

From around the web