युवती के अपहरण में पुलिस खाली हाथ

 
युवती के अपहरण में पुलिस खाली हाथ
मथुरा। आठ मई को एक महिला वृंदावन घूमने आई थी। उसके साथ उसकी 17 साल की बेटी भी थी। वृंदावन से दो लोग बेटी का अपहरण कर ले गये। महिला के वाट्सअप पर अपहरणकर्ताओं के मोबाइल से बेटी का  संदेष आया कि मेरे साथ बलात्कार, षोषण किया जा रहा है और मारपीट की जा रही है और मुझे बंधक बना रखा है।

इस पर महिला मोबाइल को लेकर थाना वृंदावन कोतवाली पहुंच गई और पुलिस को मोबाइल मैसेज दिखाया। पुलिस ने मोबाइल ट्रैस करने के बाद सेवर पुलिस को इस बात की सूचना दी। सेवर पुलिस ने दोनों लोगों को उठा लिया। दोनों को पूछताछ के लिए सीवर पुलिस थाने ले आई। इस बीच कुछ चैंकाने वाली बातें भी सामने आई। अपहरण के दोनों आरोपियों में से एक की उम्र करीब पचास साल थी। इस अधेड व्यक्ति ने पुलिस को बताया कि इस लडकी के साथ उसकी षादी हुई है। षादी के ऐवज में उससे 2.5 लाख रूपये लिये गये हैं।

वृंदावन थाना प्रभारी सुभाष दुबे का कहना है कि घटना में अपहरण का मामला दर्ज है। पता चला है कि दिल्ली से भी यही लडकी बेची गई थी। हालांकि थाना प्रभारी यह नहीं बता पा रहे कि लडकी और दोनों आरोपी कहां हैं और वृंदावन में अपहरण का मामला दर्ज होने के बाद भी सेवर पुलिस ने आरोपियों और लडकी को मथुरा पुलिस का क्यों नहीं सौंपा? 

From around the web