अज्ञात बीमारी के चपेट में आयी नेशनल लेवल पर फुटबॉल खेल चुकीं प्रीति

 
अज्ञात बीमारी के चपेट में आयी नेशनल लेवल पर फुटबॉल खेल चुकीं प्रीति
राष्ट्रीय स्तर पर फुटबॉल खेलकर प्रीति ने तीन बार बिहार को शोहरत दिलायी थी. लेकिन आज बिहार की ये बेटी किसी अज्ञात बीमारी के चपेट में है।

कभी अपने शहर के शोहरत में चार चांद लगा चुकी यह बेटी फिलहाल इतनी कमजोर हो गई है कि बिस्तर से उठ भी नहीं पाती है. प्रीति के परिवार का परिवार फिलहाल आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं. जिसके कारण वे लोग प्रीति का इलाज करने में असमर्थ हैं।


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रीति कटिहार के गांधी विद्यालय की छात्रा है. उसका सपना है कि वो भविष्य में देश के लिए महिला फुटबॉल में भारत का प्रतिनिधित्व करें. लेकिन तीन बार नेशनल गेम में बिहार की तरफ से खेलने के साथ-साथ कई प्रतियोगिता में अपनी खेल के सहारे प्रदेश की सम्मान बढ़ा चुकी इस बेटी के सपने पर फिलहाल अज्ञात बीमारी ने रोक लगा दी है।

लगभग एक महीने से प्रीति बिस्तर पर पड़ी हुई है. तेज बुखार के साथ उसका शरीर कमजोर पड़ता जा रहा है. प्रीति कहती है की वह ठीक होना चाहती है और फिर से फुटबॉल में दनादन गोल दाग कर प्रदेश का नाम ऊंचा करना चाहती है. प्रीति चाहती हैं कि सरकार या निजी स्तर पर कोई आगे आ कर इसकी मदद करें. ताकी वो अपने सपना पुरा कर सके। 

From around the web