Ramadan: रोजे के दौरान गर्मी और डिहाइड्रेशन से बचने के टिप्स

 
Ramadan: रोजे के दौरान गर्मी और डिहाइड्रेशन से बचने के टिप्स
रमजान का पाक महीना शुरू हो गया है। एक महीने तक अब रोजा रखने वाले लोग पूरे दिन बिना कुछ खाए और बिना पानी पिए रहेंगे। 42-43 डिग्री की भीषण गर्मी के बीच दिन भर बिना पानी पिए रहना और साथ ही कामकाज भी करना।

ऐसे में लू लगने और डिहाइड्रेशन का खतरा हो सकता है। लिहाजा कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है ताकि आपके रोजे हेल्दी तरीके से बीतें... डायटिशन डॉ. अनीता लाम्बा का कहना है कि गर्मी बहुत ज्यादा है। ऊपर से अधिकतर रोजेदार जब रोजा खोलते हैं तो जरूरत से ज्यादा खा लेते हैं। यह सीधे आंत पर असर डालता है। बॉडी एक मशीन की तरह है। अगर पूरे दिन कुछ नहीं खाया है तो शाम को एक बार ही बहुत खाने पर बॉडी सही तरीके से प्रतिक्रिया नहीं देगी। इसलिए रोजा खोलते वक्त हल्का खाना खाएं।

डिहाइड्रेशन से बचने के लिए रोजा खोलते वक्त सबसे पहले पानी पिएं। लेकिन सादा पानी पीने की बजाए नींबू पानी और नारियल पानी बेहतर विकल्प है। इफ्तार के वक्त रेड मीट न खाएं। इससे कलेस्ट्रॉल बढ़ता है, जो दिल के मरीजों की परेशानी बढ़ा सकता है। तड़के खाए जाने वाली सहरी को कभी न छोड़ें क्योंकि यह आपके लिए मुख्य भोजन है, जिस पर पूरा दिन आपका शरीर निर्भर रहता है। रात में भिगोकर रखे गए बादाम के साथ अपने दिन की शुरुआत करें और फिर फलों के साथ जूस या दूध का सेवन करें। तरबूज, खीरा, ककड़ी सहरी में जरूर खाएं। रोजा खोलने के लिए खजूर सबसे अच्छा माना जाता है। खजूर परंपरागत रूप से और स्वास्थ्य के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है क्योंकि ये ऊर्जा स्रोत और महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें न सिर्फ फाइबर होता है बल्कि यह बीमारियों से लडऩे वाले ऐंटी-ऑक्सिडेंट्स भी होते हैं।

From around the web