छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती

 
छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती
नई दिल्ली। सरकार ने जन भविष्य निधि कोष (पीपीएफ), राष्ट्रीय बचत पत्र, किसान विकास पत्र और सुकन्या समृद्धि योजना सहित लगभग सभी लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में 10 आधार अंकों की कटौती कर दी है जो 01 जुलाई से शुरू हो रही तिमाही के लिए प्रभावी होगी। सूत्रों के अनुसार, बचत जमा पर ब्याज दर चार फीसदी वार्षिक यथावत है जबकि एक वर्षीय जमा, द्विवर्षीय जमा और तीन वर्षीय जमा पर तिमाही मिलने वाले ब्याज को सात प्रतिशत से कम कर 6.9 प्रतिशत कर दिया गया है।
इसी तरह से पाँच वर्षीय जमा योजना पर तिमाही ब्याज को 7.8 प्रतिशत से कम कर 7.7 प्रतिशत कर दिया गया है। किसान विकास पत्र पर ब्याज को 7.7 प्रतिशत से कम कर 7.6 प्रतिशत कर दिया गया है और इसके साथ ही इसकी परिपच्ता अवधि भी 112 महीने से बढ़ाकर 113 महीने कर दी गयी है। पाँच वर्षीय सावधि जमा पर ब्याज को 7.3 प्रतिशत से कम कर 7.2 प्रतिशत कर दिया गया है।
पाँच वर्षीय वरिष्ठ नागरिक जमा पर दिये जा रहे तिमाही ब्याज को 8.7 प्रतिशत से कम कर 8.6 प्रतिशत, पाँच वर्षीय मासिक आय खाता पर ब्याज को 7.7 प्रतिशत से कम कर 7.6 प्रतिशत, पाँच वर्षीय राष्ट्रीय बचत पत्र पर वार्षिक ब्याज को आठ प्रतिशत से घटाकर 7.9 प्रतिशत, पीपीएफ पर ब्याज को आठ प्रतिशत से कम कर 7.9 प्रतिशत और सुकन्या समृद्धि योजना पर ब्याज को 8.5 प्रतिशत से कम कर 8.4 प्रतिशत कर दिया गया है।

From around the web