रोजा तोड़कर दिया खून, बचाई हिन्दू दोस्त की मां की जान!

 
रोजा तोड़कर दिया खून, बचाई हिन्दू दोस्त की मां की जान!
सरदारपुर। राजगढ़ के एक मुस्लिम युवक ने अपने दोस्त की मां की जान बचाने के लिए रोजा तोड़कर खून दिया। साथ ही युवक ने दोस्ती की मिसाल पेश कर यह भी साबित किया कि इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं होता। मजहब के नाम पर बांटने वालों को इंसानियत का संदेश भी दिया। राजगढ़ निवासी अनिल पांडे की माताजी रामवती पांडे (70) टीबी की बीमारी से पीड़ित हैं। दो बार पहले भी उन्हें खून चढ़ाया जा चुका है। 

From around the web