स्मृति ईरानी द्वारा जूता-चप्पल की बातें भाजपा की संस्कृति : बघेल

 
स्मृति ईरानी द्वारा जूता-चप्पल की बातें भाजपा की संस्कृति : बघेल
अमेठी। अमेठी संसदीय चुनाव क्षेत्र में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के दौरान वहां की भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी पर तंज सकते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने चुनाव में पराजित होने के बाद भी स्मृति ईरानी को मंत्री बनाया, यह हैरानी की बात है। अभी पिछले दिनों किसी बात पर स्मृति द्वारा जूते और चप्पल दिखाने की बाते की गई। यह भाजपा के संस्कार हो सकते हैं, कांग्रेस के नहीं।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विषय में कहा कि दस लाख का सूट पहनने वाला व्यक्ति फकीर कैसे हो सकता है। मोदी को एक बहुरुपिया  निरुपित करते हुए श्री बघेल ने कहा कि विभिन्न जगहों पर अलग-अलग रूपों में प्रस्तुत होते हैं। कहीं फकीर, कहीं चायवाला और अब चौकीदार की भूमिका में नजर आ रहे हैं। मोदी चौकीदारी किसकी करते हैं, ये देश के सभी लोग जानते और समझते हैं।

बहुरुपिया चौकीदार को जनता पहचान चुकी है। वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद जनता से किए गए वादे मोदी भूल चुके हैं लेकिन जनता नहीं भूली है। किंतु अभी पिछली विधानसभा में हुए चुनाव में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने जो वादे किए थे, वे सरकार बनते ही पूरे किए जा रहे हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़ के संदर्भ में कहा कि छत्तीसगढ़ के छत्तीसगढ़ वादों में 18 वादे पूरे हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में सरकार बन चुकी है। राजनीति में सेमीफाईनल हम जीत चुके हैं और फाईनल जीतने की ओर अग्रसर हैं।

उन्होंने अमेठी संसदीय क्षेत्र में प्रचार करने के अवसर मिलने को अपना सौभाग्य बताते हुए कहा कि जिस क्षेत्र को आजादी के बाद से ही कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व मिला हो यहां आकर धन्य हो गया। उन्होंने आम मतदाताओं से आग्रह किया कि राहुल गांधी को प्रचंड बहुमत से विजयश्री दिलाकर प्रधानमंत्री बनाने की पहल करें। श्री बघेल ने अमेठी संसदीय क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में जनसंपर्क कर राहुल गांधी के पक्ष में मतदान करने की अपील की।

From around the web