दोहरे हत्याकांड में बेटा गिरफ्तार, की थी मां-बाप की हत्या

 
दोहरे हत्याकांड में बेटा गिरफ्तार, की थी मां-बाप की हत्या
महराजगंज। सदर कोतवाली क्षेत्र के बरवा फहीम में पिछले 17/18 जून की रात ज्योति राइस मिल मालिक विश्वनाथ वर्मा और पत्नी लालती की हत्या में आरोपित बड़े बेटे सतीश को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर महराजगंज ले आयी, सतीश ने अपने माँ-बाप की हत्या फरसे से की थी, यहां पूछताछ में उसने पूरा राज खोल दिया।

एसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया कि सतीश ‌की गिरफ्तारी से पूरा राज खुला है, उसी ने पहले मां और फिर पिता को फरसे से मौत के घाट उतारा था, इसके बाद लगातार लोकेशन बदलते हुए दिल्ली पहुंच गया, मंगलवार देर रात आरोपित सतीश को दिल्ली से गिरफ्तार कर बुधवार को महराजगंज लाया गया।

बताते चले कि घटना 18 जून की सुबह मिल का मुनीब राममिलन घर पहुंचा तो गेट पर ताला लगा देखा, आवाज लगाई लेकिन विश्वनाथ वर्मा का जवाब नहीं आया, इस पर वह विश्वनाथ के बड़े भाई मुरारी वर्मा के पास पहुंचा, वह भी मौके पर गए। आवाज लगाई लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई इस पर यूपी 100 को सूचना दी गई। 

मामले की जानकारी मिलते ही डायल 100 के साथ कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंची, दरवाजों पर बाहर से लगे तालों को तोड़कर पुलिस टीम भीतर गई तो अंदर का नजारा देख सभी दंग रह गए, पति-पत्नी का शव खून से लतपथ बेड से नीचे पड़ा था पूरा कमरा भी खून से सना था।


दोहरे हत्याकांड की जानकारी पाकर एसपी रोहित सिंह सजवान व एएसपी आशुतोष शुक्ला भी मौके पर पहुंच गए, जांच को आगे बढ़ाया तो पता चला कि विश्वनाथ वर्मा के साथ उनका मानसिक रूप से बीमार बड़ा बेटा सतीश रहता है लेकिन हत्याकांड के बाद से ही उसका पता नहीं चल रहा है, इस मामले में कोतवाली पुलिस ने सतीश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही थी।

From around the web