स्पीड ब्रेकर दीदी आज चैन से सो नहीं पा रही हैं: PM मोदी

 
स्पीड ब्रेकर दीदी आज चैन से सो नहीं पा रही हैं: PM मोदीदेश में इस वक्त गर्मी तो लगातार बढ़ ही रही है, सियासी तापमन भी रोज नए रिकॉर्ड छू रहा है। लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर आज राजनेता धुआंधार रैलियां कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए चुनाव प्रचार करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को पश्चिम बंगाल के कूच बिहार में पहुंचे। यहां चुनावी रैली में पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल के विकास का स्पीड ब्रेकर बताया। उन्होंने ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल की स्पीड ब्रेकर दीदी, आज चैन से सो नहीं पा रही है। उन्होंने कहा कि रैली में आई हुई येे भीड़ दीदी की हार का स्मारक है।
ममता बनर्जी पर हमला करते हुए पीएम ने कहा कि अपने राजनीतिक फायदे के लिए घुसपैठियों को बचाकर दीदी ने माटी के साथ भी विश्वासघात किया है। पश्चिम बंगाल के लोगों को टीएमसी के गुंडों के हवाले करके उन्होंने मानुष की सारी उम्मीदें तोड़ दी हैं, उसका जीवन मुश्किल में डाल दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि दीदी अब ऐसे लोगों का साथ दे रही हैं जो भारत में दो प्रधानमंत्री चाहते हैं। क्या भारत में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए  लेकिन दीदी ने मोदी विरोध में अपने ऐसे साथियों पर भी चुप्पी साध ली है।
मोदी ने कहा कि राजनीति में जमीन खिसकना क्या होता है, अगर किसी को समझना हो, तो दीदी की बौखलाहट, दीदी का गुस्सा, देखकर समझ सकता है। मुझ पर आजकल गालियों की जो बौछार हो रही है, चुनाव आयोग पर वो जिस तरह भड़क रही हैं, उससे भी पता चलता है कि दीदी कितनी डरी हुई हैं। उन्होंने कहा कि आज इस चौकीदार पर देश को इसलिए इतना विश्वास हुआ है, क्योंकि लोगों को लगने लगा है कि नामुमकिन भी अब मुमकिन है। उन्होंने कहा कि मजबूत होते भारत से कुछ लोगों को कष्ट हो रहा है। जब भारत अंतरिक्ष में महाशक्ति बन रहा है, तो दीदी को ये परेशान करता है।
जब भारत आतंक पर सख्ती दिखाता है, तब दीदी को ये परेशान करता है। अब दीदी इतनी परेशान हैं कि दिन-रात एक ही बात कर रही हैं। बांग्लादेश के साथ जमीन समझौता दशकों से लटका हुआ था। कूच बिहार के लिए ये कितना महत्वपूर्ण था। इस समझौते पर कभी अमल होगा, ये भी नामुमकिन लगता था। लेकिन ये भी मुमकिन हुआ।

From around the web