बच्चा चोरी की अफवाह रोकें, सामाजिक जिम्मेदारी निभाएं: आईजी

 
बच्चा चोरी की अफवाह रोकें, सामाजिक जिम्मेदारी निभाएं: आईजी
मुरादाबाद (इफ्तखार अर्शी)। बच्चे चोरी की अफवाहों पर हिंसक भीड़ के हाथों बेकसूर लोगों की मौत को लेकर पुलिस महकमा गंभीर हो गया है। सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकने के लिए डिजिटल वॉलिंटियर से मदद मांगी गई है।

सोशल मीडिया खासकर फेसबुक और व्हाट्सएप पर पिछले कुछ दिनों से फोटोग्राफ्स के साथ बच्चा चोरी की अफवाहों को तेजी से फैलाया जा रहा है जिसका असर समाज में हिंसक होती भीड़ के रूप में दिखाई देने लगा है। नतीजा पिछले चंद रोज में मुरादाबाद में दर्जनभर से ज्यादा लोगों के साथ भीड़ मारपीट की घटना को अंजाम दे चुकी है, जिसमें 2 लोगों की जान भी जा चुकी है। गणेश चतुर्थी मोहर्रम और दशहरा समेत अनेक त्यौहार की आमद के साथ पंख लगाकर उड़ती अफवाहों पर अंकुश लगाने के लिए गुरुवार को पुलिस लाइन में आईजी रमित शर्मा ने थाना वार डिजिटल वॉलिंटियर्स की बैठक बुलाई।

उन्होंने डिजिटल वॉलिंटियर को सामाजिक जिम्मेदारी का हवाला देकर अफवाहों को रोकने में पुलिस की मदद करने की अपील की। कहा कि मंडल में अभी तक बच्चा चोरी की कोई वारदात सामने नहीं आई है, लेकिन बच्चा चोरी के शक में बेकसूर लोगों के साथ मारपीट की घटनाएं चिंता का विषय है इनको रोकना पुलिस प्रशासन के साथ ही सामाजिक लोगों की जिम्मेदारी है लिहाजा उन्होंने फेसबुक व्हाट्सएप ग्रुप पर अफवाह फैलाने वालों को चिन्हित कर पुलिस को सूचित करने की अपील की ताकि ऐसे असामाजिक लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सके। दूसरे संदिग्ध व्यक्ति नजर आने पर कोई भी कानून हाथ में ना लें बल्कि पुलिस को सूचना दें, पुलिस उक्त व्यक्ति से पूछताछ करेगी। उन्होंने डिजिटल वॉलिंटियर से फेसबुक व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से सूचनाएं आदान प्रदान करने के साथ ही पुलिस अफसरों के संपर्क में रहने की भी नसीहत की कहा कि कोई भी भ्रामक सूचना मिले तो तो सीधे पुलिस स्टेशन से पुष्टि कर सकते हैं। बैठक में प्रत्येक थाना क्षेत्र से करीब 20-20 वॉलिंटियर्स ने हिस्सा लिया। 

From around the web