छात्रावास में छात्र की गोली मारकर हत्या

 
छात्रावास में छात्र की गोली मारकर हत्याप्रयागराज। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पीसीबी छात्रावास में देर रात एक छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या की वजह पुरानी रंजिश बतायी जा रही है। सूचना पर पुलिस विभाग के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।
बारा थाना क्षेत्र के लोहगरा निवासी रोहित शुक्ला (30 वर्ष) दो भाइयों में सबसे बड़ा था। रोहित इलाहाबाद विश्वविद्यालय का एमए छात्र था। वह अपने परिवार के साथ जार्जटाउन स्थित अपने परिवार के साथ रहता था। रोहित के पिता ठेकेदार है। बड़ा बेटा होने की वजह से पिता ने एक वर्ष पूर्व रोहित की शादी भी कर दी थी। उन्होंने बताया कि देर रात रोहित को किसी ने फोन करके पीसीबी छात्रावास में बुलाया। जहां वह रात लगभग दो बजे पहुंचा और अज्ञात अपराधियों ने योजना के तहत उस पर ताबड़-तोड़ गोली चला दी। गोली लगते ही वह जमीन पर गिर गया। इस बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची कर्नलगंज थाने की पुलिस ने उसे उपचार के लिए स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय गई, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उसके परिजनों को फोन करके सूचना दी। सूचना पर परिवार के लोग बदहवास हालत में स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय पहुंचे। हत्या की खबर मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक अपराध आशुतोष और अपर पुलिस अधीक्षक नगर बृजेश कुमार श्रीवास्तव एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा भी पहुंचे। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर अज्ञात अपराधियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दिया है। पुलिस सूत्रों की माने तो अच्यूता नन्द हत्या काण्ड मामले का रोहित मुख्य गवाह था। पुलिस विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रही हे। रोहित की हत्या छात्रों में आक्रोश व्याप्त है।
अपर पुलिस अधीक्षक नगर बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि हत्या की वजह पुरानी रंजिश बतायी जा रही है। पीसीबी छात्रावास में किसी मामले को लेकर एक छात्र ने उसे फोन करके बुलाया था। परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करके संदिग्ध अपराधियों की तलाश शुरू कर दी गई है।

From around the web