तबरेज अंसारी की मौत एक चिंता का विषय : जमीअत उलमा-ए-हिंद

 
तबरेज अंसारी की मौत एक चिंता का विषय : जमीअत उलमा-ए-हिंद
नई दिल्ली/रांची। झारखंड के सरायकेला में धार्मिक घ्रणा और हिंसक भीड़ के शिकार तबरेज अंसारी की दर्दनाक मौत पर जमीयत उलेमा ए हिंद के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने चिंता प्रकट की है और इसे देश के माथे पर एक बदनुमा कलंक बताया है।

मौलाना  मदनी  के निर्देश पर आज जमीयत उलेमा उत्तराखंड का एक प्रतिनिधिमंडल पीड़ित एवं मृतक तबरेज अंसारी के घर कदम डीहा गांव सरायकेला पहुंचा। प्रतिनिधिमंडल ने मृतक की विधवा तथा अन्य परिवार वालों से मुलाकात की और उनका दुख बांटने का प्रयास किया।  इस अवसर पर वहां पर कुछ आर्थिक सहयोग भी दिया गया और मानवीय समाज में होने वाले इस बर्बर कार्य के दोषियों को सख्त सजा दिलाने के लिए एसडीओ और डीएसपी के सामने पूरी मजबूती से अपनी बात रखी।

प्रतिनिधिमंडल ने यह महसूस किया कि झारखंड में इस तरह की एक के बाद एक घटनाए हो रही हैं।  सबसे अधिक आश्चर्य की बात तो यह है कि समाज की सामूहिक संवेदना इस कदर मुर्दा हो गई है कि एक व्यक्ति को कुछ लोग मारते रहते हैं और बड़ी संख्या में समाज के जिम्मेदार खड़े होकर तमाशा देखते हैं।  जो वास्तव में भारत की संस्कृति जो कि  हिंदुस्तानीयत, लोकतंत्र और मानवता का मजबूत गठजोड़ है के माथे पर कलंक है । यह देश के शासकों की जिम्मेदारी है कि वह देश को मोबोक्रेसी की इस मुसीबत से बचाएं और ऐसे  घिनौने कार्य के दोषियों को सख्त से सख्त सज़ा दी जाए और उनको भी सजा मिले जो ऐसे अपराधों के समर्थक या शुभ चिंतक हैं । जमीयत उलेमा झारखंड के प्रतिनिधिमंडल में मौलाना अबू बकर कासमी महासचिव जमीयत उलमा झारखंड, मुफ्ती मोहम्मद कमर आलम कासमी मदरसा हुसैनिया रांची, मौलाना असगर मिस्बाही, शाह उमेर कोषाध्यक्ष जमीयत उलेमा झारखंड आदि शामिल थे ।

 दूसरी ओर जमीयत उलेमा ए हिंद का एक केंद्रीय प्रतिनिधिमंडल कल रांची में मुख्यमंत्री रघुवर दास से भेंट करेगा। इसके साथ ही रांची में कल 26 जून  ११ बजे सुबह  को गवर्नर हाउस के सामने जमीयत उलेमा के बैनर तले एक सामूहिक प्रदर्शन भी आयोजित होगा। इस सिलसिले में मौलाना नियाज अहमद फारूकी सचिव जमीयत उलेमा ए हिंद, शकील अहमद सय्यद सदस्य मजलिस ए आमला जमीयत उलेमा ए हिंद, एडवोकेट सुप्रीम कोर्ट, मौलाना मतीनउल हक ओसामा कानपुरी अध्यक्ष जमीयत उलेमा उत्तर प्रदेश पर आधारित जमीयत उलेमा ए हिंद का एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल रांची पहुंच रहा है ।

From around the web