मां-बेटी को पीट-पीटकर किया अधमरा, दबंगो ने दिन दहाड़े लगायी गरीब के आश

 
मां-बेटी को पीट-पीटकर किया अधमरा, दबंगो ने दिन दहाड़े लगायी गरीब के आशियाने में लगायी आगबाराबंकी।  थाना कोठी अन्तर्गत आज सुबह दबंगो ने जमीनी रंजिश विवाद को लेकर एक गरीब का आशियाना आग के हवाले कर दिया। जिसमें गरीब की सारी गृहस्थी जलकर खाक हो गयी। जब पीडि़तों ने इसका विरोध किया तो दबंगो ने लाठी डण्डो और ईंट गुम्मों से हमला करके एक महिला और बेटी को घायल कर दिया। सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस पहुंची लेकिन नतीजा कुछ नही निकला। पीडि़ता ने थाना कोठी में आधा दर्जन दबंगो के विरुद्ध तहरीर दी है। पुलिस जांच के नाम पर घटना को दबाने में जुटी हुई है।

जानकारी के अनुसार, थाना कोठी क्षेत्र के ग्राम मंगतपुर मजरे सेमरावां निवासी राजकुमार चैहान का जमीनी विवाद गांव के ही दबंग ललई सिंह व इनके घर के अन्य सदस्यों से चल रहा था। विवाद में कोई हल न निकलने के बाद पीडि़त राजकुमार ने न्यायालय में भी एक वाद दायर कर दिया था। लेकिन पिछले माह 16 मार्च को उपजिलाधिकारी ने ललई सिंह को पूरी विवादित जमीन पर यह कहकर कब्जा दिलवा दिया कि ललई की यह भूमि धरी जमीन है। इसके बाद मामला अन्दर ही अन्दर सुलगता रहा। आज प्रात: करीब 10:30 बजे ललई सिंह, अमरेन्द्र, सूरज, विजय शंकर, राम बहादुर, ननकू, रिंकू, जयकरन और रोहित आदि लोग हाथों में लाठी डण्डा लेकर राजकुमार के घर पर धाबा बोला। उस समय घर पर राजकुमार की पत्नी राजकुमारी और 14 वर्षीय बेटी नैनशी ही मौजूद थी। इन दबंगो ने मां बेटी को जमकर अपशब्द कहे और उसके बाद उनके छप्परनुमा घर में आग लगा दी। आग ने जब बिकराल रुप धारण किया और राजकुमारी और उसकी बेटी ने इसका विरोध किया तो इन दबंगो ने मां बेटियों को जमकर मारापीटा और जमकर पत्थरबाजी भी की।

जमकर आतंक मचाने के बाद दबंग वहां से चले गये। एक ग्राम वासी ने उक्त घटना की सूचना पुलिस अधीक्षक बाराबंकी को फोन से दी तो पुलिस अधीक्षक ने तत्काल मौके पर क्षेत्राधिकारी हैदरगढ़ डी.के.राय, थानाध्यक्ष कोठी अमरनाथ सिंह व असन्द्रा थाना प्रभारी रणजीत सिंह पहुंच गये। पीडि़तों ने चीख चीख कर आरोप लगाया कि दबंगो ने ही उनका पूरा घर जला दिया है। करीब 40 हजार रुपये का नुकसान हुआ है लेकिन इसके बावजूद पुलिस अधिकारी पीडि़त गरीबों की बात पर विश्वास नही किया। थानाध्यक्ष ने कहा कि जो भी शिकायत हो थाने आ करके लिखित तहरीर दो जांच करवाने के बाद ही मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जायेगी। पीडि़ता राजकुमारी ने थाना कोठी में जा करके घटना की लिखित शिकायत की। लेकिन कोठी पुलिस ने जांच के बाद ही आगे की कार्यवाही करने की बात कही। पीडि़ता का आरोप है कि इन दबंगो की दबंगई के कारण पूरे ग्रामवासी त्रस्त हैं। दबंगो ने खुद कई सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा कर रखा है। उस पर तहसील हैदरगढ़ के अधिकारीगण नही ध्यान दे रहे हैं। उल्टा हम लोगों की जमीनो पर ही तहसील के लोग कब्जा करवा रहे हैं। पीडि़ता ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित अन्य अधिकारियों को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगायी है।

तहरीर बदलो तब होगा काम
थाना कोठी की ग्राम मंगतपुर निवासिनी राजकुमार चैहान अपनी बेटी के साथ मेें जब थाने पर जाकर मुकदमा दर्ज करवाने की तहरीर दी तो वहां पर मौजूद पुलिसकर्मी लाल पीले हो उठे। पुलिसकर्मियों का कहना था कि इतने ज्यादा नाम तुम लोगों ने क्यों लिखवा दिया है। जा करके तहरीर बदल दो उसके बाद ही कोई कार्यवाही होगी। लेकिन पीडि़ता अपने ही जिद पर अड़ी रही कि तहरीर में जितने नाम हैं वह सारे नाम सही हैं। क्योंकि सभी लोग मेरे घर पर आये थे। समाचार भेजे जाने तक पुलिस ने न तो मुकदमा लिखा था न ही लिखने के आसार नजर आ रहे हैं। 

From around the web